DeogharJharkhand

देवघर: सेप्टिक टैंक साफ करने के दौरान दम घुटने से 6 लोगों की मौत

Deoghar: सेप्टिक टैंक साफ करने के दौरान दम घुटने से छह लोगों की मौत हो गयी. यह घटना रविवार को देवीपुर में हुई. जानकारी के अनुसार सभी मृतक एक दूसरे को बचाने के लिए गये थे.

इसी दौरान सेप्टिक टैंक के अंदर सभी बेहोश हो गये. सभी को सदर अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. घटना में मरने वालों में देवीपुर थाना क्षेत्र के कोल्हड़िया गांव निवासी 48 वर्षीय गोविंद मांझी और उनके दो बेटे 26 वर्षीय बबलू मांझी व 24 वर्षीय लालू मांझी शामिल हैं. जबकि मालिक 48 ब्रजेश चंद बरनवाल और उनका भाई 42 वर्षीय मिथलेश चंद बरनवाल सहित पिरहाकट्टा निवासी 27 वर्षीय लीलू मुर्मू की भी इस घटना में मौत हो गयी है.

इसे भी पढ़ें- रिया से ED की पूछताछ में खुलासा, सुशांत की बहन की FD से ट्रांसफर हुए 2.5 करोड़

advt

एक-एक करके सेफ्टिक टैंक में उतरे छह लोग

ब्रजेश चंद बरनवाल ने नया सेप्टिक टैंक का निर्माण कराया था. रविवार को मजदूर टंकी में लगे सेंट्रिंग खोलने के लिए उतरे. एक मजदूर पहले उतरा. काफी देर बाद जब वह बाहर नहीं निकला तो उसे देखने के लिए दूसरा मजदूर भी नीचे उतरा. वह भी नहीं निकला. फिर मकान मालिक भी मजदूर को देखने अंदर गये. वह भी बाहर नहीं निकल पाये. उन्हें देखने उनका भाई भी नीचे गया. वह भी अंदर ही रह गया. इसी तरह एक के बाद एक कर कुल 6 लोग टंकी के अंदर गये और सभी बेहोश हो गये.

जिसके बाद आनन-फानन में सभी लोगों को टंकी से बाहर निकाला गया. सभी को सदर अस्पताल ले जाया गया. जहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. घटना के बाद मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. वहीं, पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है.

इसे भी पढ़ें- संवैधानिक शक्तियों के बावजूद आदिवासी समाज कहां तक पहुंचा, ये चिंतनीय विषय : हेमंत सोरेन

adv
advt
Advertisement

12 Comments

  1. Today, I went to the beach front with my children. I found
    a sea shell and gave it to my 4 year old daughter and said “You can hear the ocean if you put this to your ear.” She
    placed the shell to her ear and screamed. There was a hermit crab inside and it pinched her ear.
    She never wants to go back! LoL I know this is completely off topic but
    I had to tell someone!

  2. I’m amazed, I have to admit. Seldom do I encounter a blog that’s equally educative and amusing, and without a doubt, you have
    hit the nail on the head. The problem is something that too few people are speaking intelligently about.
    I’m very happy that I came across this in my hunt for something relating to this.

  3. When I originally left a comment I appear to have clicked on the -Notify me when new comments
    are added- checkbox and now every time a comment is added I receive four emails with the same comment.
    There has to be a way you are able to remove me from that service?
    Cheers!

  4. Very nice post. I just stumbled upon your weblog and wanted to say that I
    have really enjoyed browsing your blog posts.

    After all I’ll be subscribing to your rss feed and I hope you write again very soon!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button