JharkhandRanchi

भूमि अधिग्रहण के खिलाफ ग्रामीणों का प्रदर्शन, पुलिस ने रोका तो बीच सड़क पर बैठे

Ranchi : 52 एकड़ भूमि अधिग्रहण के खिलाफ चुटू और आसपास के गांव के रैयत और ग्रामीणों ने हरवे-हथियार के साथ पद यात्रा कर विरोध प्रदर्शन किया. कांके अंचल कार्यालय का घेराव करने पहुंचे ग्रामीण और रैयतों को बोड़ेया चौक के पास पुलिस के द्वारा रोक दिया गया. जिसके बाद प्रदर्शनकारी बीच सड़क पर ही धरने में बैठे गये. बीआईटी ओपी क्षेत्र के चुटू गांव के रिंग रोड के पास सरकार की प्रस्तावित विधायक आवास बनाने की योजना का विरोध हो रहा है.

Jharkhand Rai

इस मामले में ग्रामीणों का कहना है कि सरकार के द्वारा 1971 में ही यह जमीन भूमिहीनों को आवंटन की गयी थी. आवंटन के बावजूद भी सरकार के द्वारा जमीन पर बुलडोजर चलाया गया है. सरकार की यहां पर प्रस्तावित विधायक आवास योजना का निर्माण करवाने को योजना है. सरकार इसको हड़पना चाहती है, जो सरासर ग़लत है. इससे पहले भी 3 फरवरी को प्रदर्शन किया गया था.

 52 एकड़ जमीन 16 भूमिहीन परिवारों को दी गयी थी

वर्ष 1970-71 में खाता नंबर 118, प्लॉट नंबर 115, रकबा 82 एकड़, 39 डिसमिल में से 52 एकड़ जमीन 16 भूमिहीन परिवारों को दी गयी थी. कानूनी प्रक्रिया के तहत इस जमीन की रसीद भी जारी की जाने लगी. इस जमीन पर भूमिहीन घर बनाकर खेती-बारी कर रहे थे. 2 फरवरी को अंचल कार्यालय के पदाधिकारी विधायक आवास के लिए मापी करवा रहे थे. ग्रामीणों को इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने इसका विरोध शुरू कर दिया. जिसके बाद मापी का काम रोक दिया गया था.

इसे भी पढ़ें – हाईस्कूल शिक्षक नियुक्ति: नियमावली कुछ और विज्ञापन कुछ और, नतीजा कट ऑफ मार्क्स लाकर भी ज्वॉइनिंग…

Samford

इसे भी पढ़ें – मुख्यमंत्री रघुवर दास का दावाः अबकी बार-400 पार, कहा- भाजपा ही बनायेगी राम मंदिर

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: