JharkhandLead NewsRanchi

चार लेबर कोड के विरोध में 1 अप्रैल को जगह-जगह होगा प्रदर्शन, वापस लेने की मांग

लेबर कोड की प्रतियां जलायी जायेंगी

Ranchi : चार लेबर कोड के विरोध में 1 अप्रैल को देशव्यापी विरोध दिवस मनाया जायेगा. इसी संदर्भ में झारखंड की ट्रेड यूनियनों की ओर से भी विरोध प्रदर्शन किया जायेगा.

संयुक्त ट्रेड यूनियन मंच झारखंड के प्रकाश विप्लव ने बताया कि 1 अप्रैल को चार लेबर कोड की प्रतियां जलायी जायेंगी. जगह-जगह प्रदर्शन कर इसे फाड़ा जायेगा. ट्रेड यूनियनों की ओर से विरोध कार्यक्रम अपने कार्य स्थलों पर ही किया जायेगा.

जिसके लिए अलग-अलग स्थान चिन्हित किया गया है. जानकारी देते हुए श्री विप्लव ने कहा कि केंद्र सरकार को ये कानून वापस लेना होगा. 44 श्रम कानूनों को बदल कर चार श्रम कोड लागू किया गया. जिसका शुरू से विरोध जारी है. फिर भी केंद्र सरकार मजदूरों को गुलाम बनानेवाले कानून को वापस नहीं ले रही.

इसे भी पढ़ेंःकोरोना के बढ़ते मामलों को देख कर खेलगांव कोविड सेंटर को क्रियाशील करने का आदेश

कहां-कहां किया जायेगा विरोध

झारखंड में अलग-अलग ट्रेड यूनियन सदस्यों और मजदूरों की ओर से इसका विरोध किया जायेगा. इस दौरान कारखानें, खदान, सार्वजनिक क्षेत्र, निजी क्षेत्रों में विरोध प्रदर्शन किया जायेगा. श्री विप्लव ने बताया कि केंद्रीय ट्रेड यूनियनों की ओर से इसका आह्वान किया गया है. पूरे देश में ट्रेड यूनियनों और मजदूरों की ओर से समर्थन प्राप्त है.

केंद्रीय यूनियनों ने इन दौरान लेबर कोड की प्रतियां जलाने का कार्यक्रम बनाया है. उन्होंने कहा कि यूनियनों की ओर से लगातार कानून वापस लिये जाने की मांग की जा रही है. लेकिन मोदी सरकार का नकारात्मक रवैया कानून वापस नहीं ले रहा. ऐसे में अब विरोध प्रदर्शन तेज किया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंःबुजुर्ग भूतपूर्व सैनिकों को रहने में नहीं होगी तकलीफ, राज्यपाल ने ‘वानप्रस्थ सैन्य आश्रम’ का किया उद्घाटन

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: