JharkhandPalamu

झारखंड-यूपी की सीमावर्ती कनहर नदी के किनारे शिव पहाड़ी पर मिला सोने का भंडार, सीमांकन का कार्य शुरू

Palamu: पलामू प्रमंडल के गढ़वा जिले की सीमा से सटे उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में सोने के भंडार का पता चला है. जिले के दुद्धी ब्लॉक के महुली में कनहर नदी के किनारे शिव पहाड़ी में सोने का भंडार पाया गया है. विशेषज्ञों का दावा है कि पहाड़ी में तीन हजार टन सोना है.

शिवपहाड़ी से मिली थी श्री कृष्ण की 32 मन सोने की आदमकद प्रतिमा

यह वही शिव पहाड़ी है, जहां की गयी खुदाई में गढ़वा नगरगढ़ (वंशीधर नगर) की राजमाता को अद्भुत और अद्वितीय श्री बंशीधर जी की 32 मन सोने की आदमकद प्रतिमा मिली थी. आज यही प्रतिमा गढ़वा जिले के बंशीधर नगर मंदिर में स्थापित है.

इसे भी पढ़ें – ऊर्जा सचिव वंदना डाडेल की रिपोर्ट पर तत्कालीन JBVNL MD राहुल पुरवार को कार्मिक की तरफ से नोटिस

दो जगह हैं सोने के भंडार

रिपोर्ट के मुताबिक जिले में दो जगह सोने के भंडार मिले हैं. यह सोना जमीन के अंदर दबा हुआ है. खान विभाग ने सोने का पता लगाया है. जल्द ही इस सोने को निकालने का काम शुरू होने की उम्मीद जतायी जा रही है. इसके खनन के लिए नीलामी प्रक्रिया से पूर्व जिओ टैगिंग की कार्रवाई शुरू की गयी है.

15 वर्ष से स्वर्ण की तलाश में थी जियोलाजिकल सर्वे ऑफ इंडिया की टीम

खबरों के मुताबिक जियोलाजिकल सर्वे ऑफ इंडिया की टीम पिछले 15 साल से यहां स्वर्ण भंडार की तलाशी का काम कर रही थी. टीम ने आठ साल पहले ही जमीन के अंदर सोना होने की पुष्टि कर दी थी. प्रदेश की सरकार ने अब तेजी दिखाते हुए सोने को बेचने के लिए ई-नीलामी की प्रक्रिया शुरू कर दी है. सोनभद्र में सोने के उत्खनन का रास्ता साफ होने से पहले खनिज निदेशालय जिओ टैगिंग करवा रहा है.

सात सदस्यीय टीम 22 को सौंपेगी रिपोर्ट

पहाड़ी के आसपास सर्वे करती जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया की टीम.

जिओ टैगिंग के लिए शासन ने 7 सदस्यीय टीम गठित की है. यह टीम 22 फरवरी तक शासन को रिपोर्ट सौंपेगी. जिसके बाद ब्लॉकों की नीलामी की प्रक्रिया योगी सरकार द्वारा की जायेगी. वैज्ञानिकों को महुली में 2943.26 टन और सोन पहाड़ी में 646.15 किलोग्राम सोने का भंडार मिला है. 2005 से जीएसआइ की टीम सोने की तलाश के लिए काम कर रही थी.

इसे भी पढ़ें – BJP विधायक ढुल्लू महतो के बचाव में रो पड़ी पत्नी, मेरे पति हैं बेकसूर, यौन शोषण पीड़िता चरित्रहीन महिला

646 किलो सोना मिलने का अनुमान: डीजीएम लखनऊ

सोनभद्र जिले के खनिकर्म प्रभारी अधिकारी विजय कुमार मौर्य की अगुवाई में नौ सदस्यीय टीम ने जंगल में पहुंच सीमांकन का कार्य शुरू कर दिया है. प्रभारी अधिकारी ने बताया कि उक्त पहाड़ी में 646 किलो सोना मिलने का अनुमान डीजीएम लखनऊ द्वारा लगाया, जिसकी ई टेंडरिंग हेतु वन विभाग व राजस्व विभाग के संयुक्त सहयोग से सीमाकंन का कार्य किया जा रहा है. सीमाकंन का कार्य पूरा होते ही ई टेंडरिंग की जायेगी.

पहाड़ी का रकबा 108 हेक्टेयर है

जिस पहाड़ी में सोना मिला है उसका रकबा 108 हेक्टेयर बताया जा रहा है. इसके अलावा भी क्षेत्र की पहाड़ियों में कई बेशकीमती खनिज सम्पदा होने की बात की खासी चर्चा है. यूरेनियम होने की भी संभावना जतायी जा रही है. स्वर्ण भंडार मिलने और यूरेनियम का भंडार होने के अनुमान से क्षेत्र के आसपास की पहाड़ियों में विगत 15 दिनों से हेलिकॉप्टर द्वारा हवाई सर्वे भी किया जा रहा है. पहाड़ी पर पिछले 15 वर्षों से भूतत्व व खनिकर्म विभाग के अधिकारी-कर्मचारी टेंट-तम्बू लगा कर डेरा जमाये हुए हैं.

इसे भी पढ़ें – हाल-ए-मनरेगा: घाटशिला में बगैर काम के हुआ मजदूरी भुगतान, बकरी शेड बना नहीं लेकिन हो गयी निकासी

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: