BokaroJharkhandLead News

बोकारो से उठी छठी जेपीएससी को रद्द करने की मांग, राज्य भर में प्रदर्शन की तैयारी

Ranchi/Bokaro : छठी जेपीएससी में गलत ढंग से चयनित अधिकारियों की नियुक्ति को उच्च न्यायालय ने 7 जून को अवैध घोषित कर दिया. इसके बाद उन अधिकारियों की बर्खास्तगी की मांग तेज हो गयी है.

पूरी चयन प्रक्रिया को रद्द करने को लेकर बोकारो से मांग शुरू हुई. राज्य भर में इसे लेकर प्रदर्शन होने लगे हैं. बोकारो स्थित गांधी चौक सेक्टर-4 पर अभ्यार्थियों ने धरना-प्रदर्शन किया और छठी जेपीएससी परीक्षा को पूरी तरह से रद्द करने की मांग की.

इसे भी पढ़ें :बिहार-झारखंड के बीच की दूरी कम करेगा 205 करोड़ की लागत से बननेवाला ये पुल

मांग कर रहे उम्मीदवारों में शामिल सफी इमाम ने कहा कि आज दस दिन हो गये हैं, लेकिन हेमंत सरकार ने छठी जेपीएससी के 326 अवैध अधिकारियों को पद मुक्त नहीं किया है.

advt

इसे भी पढ़ें :मौसम विभाग की चेतावनी, बिहार के 11 जिलों सहित पटना में भारी बारिश का रेड अलर्ट

सरकार उन्हें तत्काल पदमुक्त करे और पूरी परीक्षा को रद्द कर नये सिरे से परीक्षा आयोजित करे.

वहीं कृष्ण किशोर ने कहा कि हेमंत सरकार जेपीएससी के भ्रष्ट पदाधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई करे. धरना प्रदर्शन में सुभाष चन्द्र, कृष्ण किशोर, एसके लाल, जयदेव नायक, निरंजन महतो, विजय कुमार उपस्थित रहे. इसके साथ ही अब हजारीबाग, धनबाद, गिरीडीह, रामगढ़, चतरा जिले में भी आंदोलन किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें :543 सीटों पर लड़नेवाले 8054 उम्मीदवारों ने 775 करोड़ रुपये खर्च बताया चुनाव आयोग को

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: