न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रक्षा मंत्रालय की 3000 करोड़ की रक्षा खरीद को मंजूरी, दो स्टील्थ फ्रिगेट, ब्रह्मोस मिसाइलों की डील पर मुहर

डीएसी की मीटिंग रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में हुई.  सूत्रों के अनुसार अक्टूबर मांह में कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्यॉरिटी (सीसीए) ने पी1135.6 (शिप फॉलोऑन) की खरीद का फैसला लिया था.

18

NewDelhi : डिफेंस एक्विजिशन कमेटी (डीएसी) ने 3000 करोड़ रुपये की रक्षा खरीद को शनिवार को मंजूरी दी है. डीएसी रक्षा खरीद को लेकर निर्णय लेने वाली रक्षा मंत्रालय की शीर्ष संस्था है.   खबरों के अनुसार रक्षा मंत्रालय ने नौसेना के दो स्टील्थ फ्रिगेट (रडार की नजर में पकड़ नहीं आने वाले युद्धपोतों), उसके लिए ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइलें, युद्धक टैंक अर्जुन के लिए बख्तरबंद रिकवरी वाहन सहित 3,000 करोड़ रुपये मूल्य की सैन्य खरीद को मंजूरी प्रदान कर दी है. नेवी शिप रूस में बनेंगे. बता दें कि डीएसी की मीटिंग रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में हुई.  सूत्रों के अनुसार अक्टूबर मांह में कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्यॉरिटी (सीसीए) ने पी1135.6 (शिप फॉलोऑन) की खरीद का फैसला लिया था.

स्वेदश में डिजाइन होने वाले ब्राह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइलों का परीक्षण किया जा चुका है.डीएसी ने थल सेना के बैटल टैंक अर्जुन के लिए एआरवी की खरीद को भी मंजूरी दे दी है. इन्हें डीआरडीओ (डिफेंस रिसर्च ऐंड डिवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन) ने डिजाइन किया है और ये सरकार उपक्रम भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड द्वारा मैन्युफैक्चर किये जायेंगे.

इसे भी पढ़ें : 2022 में जी 20 की मेजबानी भारत करेगा, मोदी सरकार की कूटनीतिक सफलता

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: