न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दशहरे के मौके पर शस्त्र पूजा कर राफेल में उड़ान भरेंगे रक्षा मंत्री

769

Paris: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को पेरिस में फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैंक्रो के साथ बैठक करेंगे. बोर्डोक्स में वह पहला राफेल जेट विमान प्राप्त करेंगे. बोर्डोक्स में ही वह दशहरे के मौके पर शस्त्र पूजा करेंगे और राफेल में उड़ान भरेंगे.

सिंह ने सोमवार को पेरिस पहुंचने पर ट्वीट किया कि फ्रांस पहुंचकर खुशी हुई. यह महान देश भारत का अहम सामरिक साझेदार है और हमारा विशेष संबंध औपचारिक संबंधों के क्षेत्र से परे जाता है. फ्रांस की मेरी यात्रा का लक्ष्य दोनों देशों के बीच के वर्तमान सामरिक साझेदारी का विस्तार करना है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें- #DoubleEngine की सरकार में बेबस छात्र-5 : 556 प्रोफेसर बनाने का सपना 4 साल दिखाया, फिर तोड़ दिया

शस्त्र पूजा के बाद राजनाथ भरेंगे उड़ान

फ्रांस की राजधानी में एल्सी पैलेस में मैंक्रो के साथ भेंटवार्ता के बाद सिंह दक्षिण पश्चिमी फ्रांसीसी शहर बोर्डोक्स जायेंगे. जहां वह भारतीय वायुसेना द्वारा खरीदे गये पहले राफेल लड़ाकू जेट को सौंपे जाने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे.

यह कार्यक्रम भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस और दशहरे के दिन होगा. इस मौके पर पारंपरिक ‘शस्त्र पूजा’ के लिए एयरबेस पर प्रबंध किया गया है.

शस्त्र पूजा दशहरा का हिस्सा है. शस्त्र पूजा के बाद सिंह इस विमान के दो सीट वाले प्रशिक्षु संस्करण में उड़ान भरेंगे.

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि रक्षा मंत्री (सिंह) मेरीग्नैक में फ्रांस के रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले के साथ राफेल को सौंपे जाने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. प्रवक्ता ने कहा कि वह विजयदशमी के पावन अवसर पर शस्त्र पूजा भी करेंगे और राफेल लड़ाकू विमान में उड़ान भी भरेंगे.

इसे भी पढ़ें- शिवसैनिक को सीएम बनाने के मुद्दे पर भाजपा ने कसा तंज कहा- हसरत पालने में कोई हर्ज नहीं है

सभी 36 राफेल जेट विमानों के 2022 तक भारत पहुंचने की संभावना

इस मौके पर फ्रांस के शीर्ष सैन्य अधिकारी और राफेल के विनिर्माता दसाल्ट एविएशन के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे. भारत ने करीब 59 हजार करोड़ रुपये मूल्य पर 36 राफेल लड़ाकू जेट विमान खरीदने के लिए सितंबर, 2016 में फ्रांस के साथ अंतर-सरकारी समझौता किया था.

वैसे तो सिंह मंगलवार को 36 राफेल जेट विमानों में पहला विमान मंगलवार को प्राप्त कर लेंगे लेकिन चार विमानों का पहला खेप अगले साल मई तक ही भारत आएगा.

सभी 36 राफेल जेट विमान सितंबर, 2022 तक भारत पहुंचने की संभावना है. उसके लिए भारतीय वायुसेना जरूरी बुनियादी ढांचा तैयारी करने और पायलटों को प्रशिक्षण देने समेत जरूरी तैयारियां कथित रूप से कर रही है.

Related Posts

#Delhi_CM केजरीवाल ने अमित शाह से हुई मुलाकात को सार्थक बताया, ट्वीट कर दी जानकारी

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान केजरीवाल ने दिल्ली के विकास के लिए केंद्र की तरफ भी सहयोग का हाथ बढ़ाते हुए कहा था कि मैंने आज के समारोह के लिए प्रधानमंत्री को भी आमंत्रित किया था, लेकिन वह व्यस्त होने की वजह से नहीं आ सके.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like