न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

वार्ड 34 : निगम की डीप बोरिंग से 300 घरों में पड़ा सूखा, पार्षद के खिलाफ आक्रोश

मेयर को भी दी गयी है जानकारी, नहीं हुआ समस्या का समाधान

73

Ranchi :  रांची नगर निगम द्वारा कराये गये एक डीप बोरिंग से करीब 300 घरों में पानी का संकट उत्पन्न हो गया है. गर्मी के दिनों में लोगों को पानी की किल्लत न हो, इसके लिए ही निगम ने यहां पर डीप बोरिंग कराया था. लेकिन इस बोरिंग से इलाके के इतनी संख्या में घऱों का बोरिंग सूख गया है. इससे इलाके में रहने वाले लोगों में काफी नाराजगी है. मामला वार्ड 34 स्थित विद्यानगर और करम चौक इलाके से जुड़ा हुआ है. यह बोरिंग करीब 500 फीट से अधिक गहराई पर की गयी है.

mi banner add

इसके अलावा इलाके में तीन-चार अतिरिक्त बोरिंग भी निगम ने कराया है. लेकिन इसमें भी दो बोरिंग पूरी तरह से सूख गये हों. वहीं दो पर व्यक्तिगत रूप से लोगों का कब्जा है.   एक पर निगम के ठेकेदार का तो अन्य पर एक महिला का. क्षेत्र में पानी की किल्लत की जानकारी मेयर आशा लकड़ा को भी दी गयी है. लेकिन उन्होंने अभी तक इस बारे में कोई संझान नहीं लिया है. वार्ड पार्षद विनोद सिंह के इस और कोई ध्यान नहीं देने से महिलाओं में उनके प्रति काफी नाराजगी है.

इसे भी पढ़ें – बिजली संकट पर मंत्री सरयू राय ने सीएम को घेरा, कहा- 30 लाख नये कनेक्शन का बहाना भयावह और निर्लज्ज…

निजी व्यक्ति के हाथों में है सरकारी बोरिंग, सुबह 3 बजे से लगती है लाइन

इलाके में रहने वाले राकेश कुमार सिंह, जो एक राजनीतिक दल से जुड़े है और स्थानीय महिलाओं सुनीता देवी और गंगोत्री देवी का कहना है कि डीप बोरिंग से तो लोगों के घरों का बोरिंग सूख गया है. वही दो बोरिंग पर स्थानीय लोगों ने कब्जा कर रखा है. एक बोरिंग पर निगम के ही ठेकेदार

दिलीप सिंह का कब्जा है. स्थानीय लोगों को यहां से पानी नहीं मिल पाता है. वही दूसरे सरकारी बोरिंग पर स्थानीय महिला का नियंत्रण है. वह अपनी मनमर्जी से लोगों को पानी देती है. कई घरों के लोग पानी के लिए

सुबह 3 बजे से दिन के 11 बजे तक लाइन लगाते है. वही शाम में 4 बजे लाइन से रात 11 बजे तक लाइन लगने की स्थिति बनती है. राकेश कुमार ने बताया कि मेयर को भी सोशल मीडिया वाट्सअप कर इसकी जानकारी दी गयी. लेकिन अभी तक उन्होंने इस और कोई पहल नहीं की है.

इसे भी पढ़ें – जानिए, मारवाड़ी कॉलेज की छात्राएं कैंपस में किन कारणों से हो रहीं शर्मिंदा

पार्षद के प्रति  स्थानीय महिलाओं में गुस्सा

बोरिंग सूखने वाले घरों की महिलाओं का पार्षद के प्रति काफी गुस्सा है. स्थानीय महिला ने बताया कि एक तो पूरे इलाके के कई घरों में बोरिंग सूख गया है. वही इस भीषण गर्मी में पानी के लिए उनके पास केवल वही डीप बोरिंग सहारा बचा है. लेकिन वह भी उनके घरों से काफी दूर है. जहां से पानी भर कर लाना पड़ता है. इसकी जानकारी स्थानीय पार्षद को भी दी गयी. कहा गया कि परेशानी को देखते हुए निगम के टैंकर से मोहल्लों में पानी की आपूर्ति की व्यवस्था की जाये. लेकिन पार्षद उनकी बातों की अनदेखी कर रहे हैं.

  जल संकट की स्थिति है

इलाके में कराये गये इस डीप बोरिंग के निरीक्षण के दौरान पाया गया कि इससे भी निकलने वाली पानी की गति काफी कम है. पानी आपूर्ति कर रहे निगम के एक टैंकर चालक ने बताया कि डीप बोरिंग वाले स्थान का ग्राउंड लेवल काफी नीचे है. गत वर्ष पास में एक डीप बोरिंग हुआ था, जो सूख गया. इस स्थान से कुछ दूरी पर इस वर्ष अप्रैल में एक नया डीप बोरिंग कराया गया. लेकिन इस बोरिंग का ग्राउंड वाटर भी काफी खराब है. पूरा टैंक भरने में करीब 45 मिनट का समय लग रहा है. जबकि अमूमन ऐसे डीप बोरिंग से एक टैंकर करीब 20 से 25 मिनट में भर जाता है. ऐसे में इस इलाके में जल संकट की स्थिति विकराल रूप लेती जा रही है.

इसे भी पढ़ें – तैयारी जीत कीः बीजेपी ऑफिस में रात भर बनेगी मिठाई, जेएमएम सुबह देगा फूलों का ऑर्डर

निगम ने दिये हैं 3 टैंकर, समय निर्धारित नहीं करने से मोटर जलने का है डर

पानी की किल्लत की बात पर सहमति जताते हुए वार्ड पार्षद का कहना है कि निगम द्वारा उनके वार्ड में केवल 3 टैंकर दिये गये है. उससे जहां तक संभव हो पाता है जलापूर्ति की जाती है. वही जहां निगम के ठेकेदार द्वारा बोरिंग पर कब्जा करने की बात को उन्होंने नकारा. अन्य बोरिंग की स्थिति पर कहा कि इसके लिए समय निर्धारित करना जरूरी है. ऐसा नहीं करने पर मोटर जलने का खतरा बना रहता है. 300 घरों में बोरिंग सूख जाने की बात पर कहा कि निगम ने लोगों को वाटर हार्वेस्टिंग कराने का निर्देश दिया हुआ है. बोरिंग सूखने की समस्या उन्हीं घरों में ज्यादातर है, जहां निर्देश का पालन नहीं हो रहा है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: