JharkhandRanchi

कर्ज से परेशान व्यक्ति ने की आत्महत्या, आरक्षी अधीक्षक के नाम से छोड़ा सुसाइड नोट

Ranchi : राजधानी रांची के सुखदेव नगर थाना क्षेत्र स्थित अलकापुरी निवासी छोटू प्रसाद गुप्ता उर्फ सुनील कुमार गुप्ता ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली. छोटू प्रसाद गुप्ता ने भावुक सुसाइड नोट छोड़ा है. मृतक ने आरक्षी अधीक्षक के नाम से सुसाइड नोट छोड़ा है. इस सुसाइड नोट में दोषियों पर उचित कार्रवाई करने का अनुरोध किया है. छोटू गुप्ता कर्ज से परेशान था और समय पर कर्ज नहीं चुकाने पर उसे प्रताड़ित किया जा रहा था.

इसे भी पढे़ं – हेलमेट पहना होता तो शायद बच जाती जान, कार और बाइक की टक्कर में बाइक सवार की मौत

सुसाइड नोट में उन्होंने शंकर सेठ, अभिषेक और मदन मिश्रा का जिक्र किया है. मृतक ने सुसाइड नोट में बताया कि शंकर शंकर सेठ से 6000 रुपये लिये थे. उसने निजी बैंक और महिला समिति से कर्ज लिया था. उसने सुसाइड नोट में लिखा है कि अभिषेक जो उज्जीवन बैंक में काम करता है, एक-दो दिन पैसे देने में लेट होने की वजह से गाली-गलौज करता था. जिससे मैं मानसिक रूप से काफी परेशान रहता हूं. छोटू गुप्ता ने मदन मिश्रा नाम के व्यक्ति पर भी आरोप लगाया और कहा कि मदन मिश्रा ने धोखा से उसकी जमीन लिखवा ली और उल्टे उसी पर केस कर दिया. उन्होंने बताया कि 13 साल से मैं कर्ज लेकर केस लड़ रहा हूं. मदन मिश्रा सीआइडी में काम करता है.

छोटू प्रसाद गुप्ता उर्फ सुनील प्रसाद गुप्ता के आत्महत्या करने से उनके परिवारवाले काफी टूट चुके हैं. सुनील प्रसाद गुप्ता की तीन बेटियां हैं. दो बेटियों की शादी हो चुकी है. बेटी रीना ने बताया कि पापा तो चले गये लेकिन अब मेरी शादी कौन करायेगा. उन्होंने यह भी बताया कि कर्ज में दबे होने के कारण परिवारवाले काफी परेशान थे.

इसे भी पढ़ें – मुख्यमंत्री के काफिले पर हमले के मामले में पार्षद रौशनी खलखो ने कोर्ट में किया सरेंडर

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: