न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विलुप्त हो रहे पहाड़िया समुदाय के युवक का शव कुआं से बरामद, परिजनों ने जतायी हत्या की आशंका

55

Sahebganj : साहेबगंज जिले के तालझारी थाना क्षेत्र के जमाल गांव स्थित फुटबॉल मैदान के समीप कुएं से गुरुवार को एक युवक की लाश बरामद की गयी. शव की शिनाख्त बोरियो थाना क्षेत्र निवासी काशीगुनया के पुत्र 20 वर्षीय मंजू पहाड़िया के रूप में की गयी. मृतक की मां सुरजीन पहाड़िन ने बताया, “वह सोमवार दोपहर को ही घर से करणपुरातो हटिया जाने की बात कहकर घर से निकला था. जब शाम तक घर नहीं आया, तो हमलोगों ने इधर-उधर खोजा, लेकिन कहीं नहीं मिला.” गुरुवार की दोपहर कुएं में लाश की सूचना मिली. शव मिलने की सूचना जमाल के ग्रामीणों ने पुलिस को दी, सूचना मिलते ही तालझारी थाना एएसआई अजय राम, विजय दुबे ने घटनास्थल पर पहुंचकर कुएं से शव को निकाला.

पत्थर से बांधकर कुएं में फेंके जाने की आशंका

मृतक को देखकर प्रतीत होता है कि युवक की हत्या कर उसकी कमर में गमछा से पत्थर बांधकर कुएं में फेंक दिया गया था. परिजनों ने आशंका जतायी है कि युवक की हत्या कर शव को कुएं में डाला गया है. मृतक की मां सुरजीन पहाड़िन ने गांव के चार युवक व तालझारी थाना क्षेत्र के कुछ युवक पर हत्या करने की आशंका जतायी. साथ ही मृतक की मां ने बताया कि गांव के कुछ लोगों ने युवक को जान से मारने की धमकी पूर्व में दी थी और उक्त युवकों द्वारा हमलोगों को जान से मारने की धमकी दी जा रही है. उनलोगों का कहना है कि तुमलोग थाना से घर वापस आओगे, तो तुमलोगों को जान से मार देंगे. मृतक की मां ने पुलिस से अपने एक छोटे बेटे व पति की जान बचाने की गुहार लगायी है. थाना प्रभारी ब्रह्मदेव चौधरी ने बताया कि हत्या के मामले में छानबीन की जा रही है. छानबीन के बाद ही प्राथमिकी दर्ज की जायेगी. बता दें कि मृतक मंजू पहाड़िया की शादी भी तय हो चुकी थी. कुछ ही दिन बाद उसकी शादी होनेवाली थी.

विलुप्त हो रहे पहाड़िया समुदाय के युवक का शव कुआं से बरामद, परिजनों ने जतायी हत्या की आशंका

इसे भी पढ़ें- पूर्व आईपीएस अधिकारी पीएस नटराजन को पड़ा दिल का दौरा, रिम्स में भर्ती

इसे भी पढ़ें- बड़े शहर के अच्छे अस्पताल में कराया जाये लालू का इलाज : सरयू राय

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: