JharkhandRanchi

दल-बदल मामलाः हाइकोर्ट ने जानकी यादव, अमर बाउरी, गणेश गंजू व नवीन जायसवाल को 10 मई को उपस्थित होने को कहा

Ranchi: झारखंड में दलबदल मामले को लेकर हाइकोर्ट में सुनवाई हुई. विधायक आलोक चौरसिया की ओर से अधिवक्ता लक्ष्मी कुमारी और मंत्री रणधीर सिंह की ओर से अधिवक्ता चंदना ने कोर्ट में उपस्थिति दी. अन्य चार विधायकों की ओर से कोर्ट में कोई उपस्थिति नहीं हुई. इसे लेकर सुनवाई के दैरान कोर्ट ने पूछा कि आखिर उन चार विधायकों को कोर्ट का नोटिस मिला या नहीं. चारों विधायकों के पीए के द्वारा कोर्ट नोटिस को रिफ्यूज कर दिया गया है. कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए कहा कि उनके पीए के द्वारा कोर्ट नोटिस को रिफ्यूज करना गलत है. मामले की सुनवाई न्यायाधीश सुजीत प्रसाद की अदालत में हुई.

ram janam hospital

देखें वीडियो-

इसे भी पढ़ें – 107 दिनों से  है अचेत, लेकिन आंखो में अब भी दिखती है जीने की चाह

शुक्रवार को पक्ष रखेंगे चार विधायक

बाकी बचे चार विधायकों को कोर्ट में उपस्थित होने के लिए 10 मई की तिथि निर्धारित की गयी है. ज्ञात हो कि गत 20 फरवरी 2019 को स्पीकर कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए 6 बागी विधायकों के दल-बदल को सही ठहराया था. जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल और महासचिव प्रदीप यादव के द्वारा विधान सभा स्पीकर के फैसले को हाइकोर्ट में चुनौती दी गयी है. जेवीएम का दामन छोड़ बीजेपी में शामिल हो गये छह विधायकों पर दलबदल का मामला चल रहा है. इनमें आलोक चौरसिया, रणधीर सिंह, जानकी यादव, अमर बाउरी, गणेश गंजू, नवीन जायसवाल के नाम शामिल हैं. कोर्ट ने चारों विधायकों को शुक्रवार को अपना पक्ष रखने को कहा है, नहीं तो कोर्ट इन पर नोटिस जारी करेगा.

इसे भी पढ़ें – पूर्व नौसेना प्रमुख ने पीएम मोदी के बयान को गलत बताया, कहा- आईएनएस विराट पर सरकारी काम से गये थे राजीव गांधी

Advt
Advt

Related Articles

Back to top button