न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चक्रवाती तूफान फेथई दोपहर में आंध्र तट से टकरायेगा, आंध्र प्रदेश में 22 ट्रेनें रद्द

फेथई का असर उत्तरी तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और ओडिशा के साथ-साथ छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, झारखंड और पश्चिम बंगाल में पड़ना शुरू  

1,296

NewDelhi : बंगाल की खाड़ी में उठा एक चक्रवाती तूफान फेथई आंध्र तट की ओर बढ़ रहा है.  चक्रवाती तूफान आज सोमवार को आंध्र प्रदेश के काकीनाडा और विशाखापत्तनम के बीच के इलाके को पार करेगा.  इसका असर उत्तरी तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और ओडिशा के साथ-साथ छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, झारखंड और पश्चिम बंगाल में पड़ना शुरू हो गया है.  इन राज्यों में ठंडी हवाएं बह रही हैं और हल्की बारिश भी शुरू हो गयी है .  इसके चलते तापमान में गिरावट शुरू हो गयी है. तूफान के कारण  आंध्र प्रदेश में 22 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है .  एक ट्रेन का समय बदला गया और एक को आंशिक तौर पर रद्द किया गया है .  बता दें कि रविवार को तमिलनाडु के समुद्री तट लगभग 486 नॉटिकल मील दूर बंगाल की खाड़ी में गहरे दबाव के चलते यह समुद्री तूफान उठा है.

साइक्लोन चेतावनी केंद्र के निदेशक एस बालचंद्रन के आंध्र प्रदेश में तटीय इलाकों से टकराने के दौरान लग्रभग 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है. मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात के गंभीर तूफान में बदलने की आशंका है. अनुमान के अनुसार तूफान उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर मुड़ जायेगा तथा सोमवार दोपहर तक ओंगोल एवं काकीनाड़ा के बीच आंध्र प्रदेश के तट से टकरायेगा.

फेथई अगले कुछ घंटों में तेज चक्रवाती तूफान में तब्दील हो जायेगा

बता दें कि मौसम विभाग ने 18 दिसंबर मंगलवा तक ओडिशा में कहीं हल्की से मध्यम बारिश एवं दक्षिण ओडिशा के जिलों में गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना जताई है .  आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने तटीय जिलों के कलेक्टरों को जानहानि को रोकने के लिए सभी एहतियात बरतने को कहा है .  विशाखापत्तनम चक्रवात चेतावनी केंद्र के अनुसार फेथई अगले कुछ घंटों में एक तेज चक्रवाती तूफान में तब्दील हो जायेगा और सोमवार दोपहर बाद जमीन से टकराने के बाद वह धीरे-धीरे हल्का हो जायेगा.  इस सबंध में चक्रवात चेतावनी केंद्र ने चेतावनी जारी की है कि भारी तूफान से विशाखापत्तनम के निचले इलाकों व आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी, पश्चिम गोदावरी, कृष्ण व गुंटूर तटीय जिले और पुडुचेरी के यानम जिले में तूफान के दस्तक देने के वक्त एक मीटर तक तूफान उठ सकता है . सरकार ने मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है .  समुद्री तूफान पे-ती (फेथई) के कारण यातायात पर असर पड़ने लगा है .

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: