न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चक्रवात वायु की तीव्रता कम हुई, दो-तीन दिन में मानसून के आगे बढ़ने की संभावना : मौसम विभाग  

देश में मानसून की सुस्त रफ्तार के कारण  कुल कमी 43 फीसदी तक पहुंच गयी है

24

NewDelhi : मौसम विभाग के अनुसार मानसून के उत्तर की ओर आगे बढ़ने की उम्मीद है, क्योंकि चक्रवात वायु की तीव्रता कम होने की वजह से अरब सागर की ओर बढ़ने के लिए मानसूनी हवाओं का मार्ग प्रशस्त हो गया है. मौसम विभाग ने रविवार को यह जानकारी दी. अब तक, मानसून को मध्य प्रदेश, राजस्थान, पूर्वी उत्तर प्रदेश और गुजरात के कुछ हिस्सों सहित मध्य भारत तक पहुंच जाना चाहिए था, लेकिन यह महाराष्ट्र तक भी नहीं पहुंच पाया है.

mi banner add

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, मानसून अभी भी दक्षिणी प्रायद्वीप के ऊपर मैंगलोर, मैसूर, कुड्डलोर और पूर्वोत्तर में पासीघाट, अगरतला के ऊपर है. पश्चिमी तट में महाराष्ट्र से लेकर गुजरात तक चक्रवात के कारण वर्षा हुई है.केवल तटीय कर्नाटक और केरल में मानसून के कारण बारिश हुई है.

राज्यसभा :  चुनाव आयोग की अधिसूचना से कांग्रेस परेशान,  गुजरात में बिगड़ जायेगा गेम, SC जा सकती है कांग्रेस

चक्रवात वायु के कारण मानसून की गति रुक गयी

मौसम विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक देवेंद्र प्रधान ने कहा,चक्रवात वायु के कारण मानसून की गति रुक गयी.  वायु की तीव्रता कम हो गयी है और हम अगले 2-3 दिनों में मानसून के आगे बढ़ने की उम्मीद करते हैं. देश में मानसून की सुस्त रफ्तार के कारण इसकी कुल कमी 43 फीसदी तक पहुंच गयी है. मध्य प्रदेश, ओडिशा, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और गोवा में 59 फीसदी वर्षा की कमी दर्ज की गयी है, जबकि पूर्व और पूर्वोत्तर भारत में 47 फीसदी की कमी दर्ज की गयी है.

केंद्रीय जल आयोग के अनुसार, दक्षिण भारतीय राज्यों और महाराष्ट्र के जलाशयों में जल स्तर पिछले दस वर्षों के औसत से कम है. देश के कई हिस्सों में खासकर पूर्वी भारतीय राज्यों झारखंड, बिहार और ओडिशा में तेज गर्मी पड़ रही है. वायु के सोमवार की शाम को गुजरात तट को पार करने की उम्मीद है. यह मानसूनी हवाओं के अरब सागर की ओर बढ़ने का मार्ग प्रशस्त करेगा. मानसून ने अपने सामान्य समय के लगभग एक हफ्ते बाद आठ जून को केरल में दस्तक दी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: