Lead NewsNational

Cyclone Gulab: आज शाम ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तट से टकराएगा चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’

Cyclone Gulab: मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान गुलाब आज शाम तट से टकराएगा. इस दौरान हवा की रफ्तार 85 किलोमीटर प्रति घंटा तक रह सकती है. IMD के मुताबिक बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना कम दबाव का क्षेत्र शनिवार को चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ में तब्दील हो गया है. उत्तरी आंध्र प्रदेश और उससे लगे दक्षिण ओडिशा के तटीय इलाकों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इन इलाकों में भारी बारिश हो सकती है. भारी तूफान के चलते मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है. वहीं ओडिशा के निचले इलाकों से लोगों को सुरक्षित पहुंचाने का आदेश दिया गया है.

इसे भी पढ़ें : किसान संगठनों का भारत बंद कल, कई राजनीतिक दलों का समर्थन

आईएमडी के अनुसार पाकिस्तान द्वारा दिया गया नाम चक्रवात ‘गुलाब’ फिलहाल ओडिशा में गोपालपुर से लगभग 370 किमी पहले-दक्षिण पूर्व और आंध्र प्रदेश में कलिंगपट्टनम से 440 किमी पूर्व में केंद्रित था, और यह पिछले छह घंटों में 7 किमी प्रति घंटे की स्पीड के साथ लगभग पश्चिम की ओर बढ़ गया. IMD के डायरेक्टर जेनरल मृत्युंजय महापात्र ने कहा, “सिस्टम के लगभग पश्चिम की ओर बढ़ने और कलिंगपट्टनम और गोपालपुर के बीच उत्तर आंध्र प्रदेश-दक्षिण ओडिशा तटों को पार करने की संभावना है.”

advt

वहीं महापात्रा ने बताया कि तूफान के कारण हवा की गति भी तेज रहेगी. अनुमान लगाया जा रहा है कि इस दौरान हवा की गति 75 किमी प्रति घंटे से लेकर 95 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है. उन्होंने कहा कि तेज बारिश भी हो सकती है जिसके कारण कई निचले इलाकों के जिलों में पानी भर जाएगा. ओडिशा के दक्षिणी क्षेत्र के पहाड़ी इलाकों में अचानक बाढ़ की आशंका है. गंजम और पुरी में शहरी इलाकों में भारी बारिश के कारण जलभराव का हो सकता है.

वहीं ओडिशा सरकार ने को सात जिलों को उच्च सतर्कता बरतने को कहा है. विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) पीके जेना ने कहा कि सरकार ने बचाव दलों को संवेदनशील इलाकों में भेजा और अधिकारियों से निचले इलाकों से लोगों को बाहर निकालने को कहा है.

ओडिशा आपदा त्वरित कार्य बल (ओडीआरएएफ) के 42 दलों और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के 24 दलों के साथ दमकल कर्मियों को सात जिलों गजपति, गंजम, रायगढ़, कोरापुट, मल्कानगिरी, नबरंगपुर, कंधमाल भेजा है.

आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापत्तनम जिले और दक्षिण ओडिशा तट (गंजम, गजपति जिले) में 55-65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है. पुरी, रायगडा और कोरापुट जिले भी इसकी चपेट में आएंगे. ओडिशा के मलकानगिरी जिले में तेज हवा की गति 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी. इसके अलावा कई इलाकों में हवा की रफ्तार 85 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने भी चक्रवात अलर्ट पर मौसम कार्यालय की रिपोर्ट के मद्देनजर तैयारियों की समीक्षा बैठक की और अधिकारियों को सभी आवश्यक कदम उठाने का निर्देश दिया है. सीएमओ ने कहा कि हम चक्रवात के लिए तैयारी रख रहे हैं. फिलहाल ग्राम सचिवालय के अनुसार नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं और श्रीकाकुलम और विशाखापत्तनम जिलों में आपदा प्रबंधन कर्मचारियों को तैयार किया है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: