Crime NewsJamtaraJharkhand

साइबर ठग मोबाइल में एप्प भेजकर लोगों को बना रहे शिकार, दो गिरफ्तार

एनी डेस्क व टीम व्यूअर नामक एप्प से लोगों को बनाते ठगी का शिकार

Jamtara: मोबाइल में आए कोई भी एप्प को डाउनलोड करने से पहले उस एप्प के बारे में जानकारी जरूरी है. नही तो बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है. आजकल साइबर ठगी का जमाना है. कुछ साइबर ठग कुछ एप्प मोबाइल में भेज कर लोगों को ठगी का शिकार बना रहे हैं.

Jharkhand Rai

जामताड़ा साइबर पुलिस ने कुछ इसी ट्रेंड के दो साइबर ठग को गिरफ्तार किया है. वहीं मास्टरमाइंड ठग भागने में सफल रहा है. कर्माटांड़ थाना क्षेत्र के सियताड़ व अमडीहा गांव से दो ठगों को गिरफ्तार किया गया है. ठगों ने इसी ट्रेंड को अपनाकर बंगाल के एक व्यक्ति के खाते से 25 हजार की राशि उड़ा ली.

इसे भी पढ़ेः 6 सालों की तपस्या का अब 33 खिलाड़ियों को मिलेगा फल, हड़िया दारू बेचने और मजदूरी करने से मिलेगी निजात

जामताड़ा एसपी को फोन पर गुप्त सूचना मिली और एक नंबर एसपी को दिया गया. एसपी ने उस नंबर पर कई बार फोन लगाया. कभी स्वीच ऑफ तो कभी खुलता था. खुलने पर लोकेशन के आधार पर ठगों की गिरफ्तारी की गयी. दोनो को साइबर पुलिस व कर्माटांड़ पुलिस की टीम ने गिरफ्तार किया है.

Samford

एसपी ने पीसी में दी कई अहम जानकारी

जामताड़ा एसपी दीपक कुमार सिन्हा ने प्रेस वार्ता कर कई अहम जानकारी दी. कहा कि ये ठग मोबाइल में दो एप्प को भेजता है. एक एनी डेस्क व दूसरा टीम व्यूअर के नाम का एप्प भेजता है. उस एप्प को जैसे ही डाउनलोड करेंगे, आपका मोबाइल हैक हो जायेगा. अब आपके मोबाइल की सारी एक्टिविटी को वे ठग देखेंगे.

इसे भी पढ़ेः त्योहार में घर जा रहे हैं तो छिनतई करने वाले अपराधियों पर रहेगी पुलिस की नजर

राज्य का बंटवारा कर लोगों को बनाते थे शिकार

साइबर ठगों ने आपस में राज्य का बंटवारा कर लिया था. सियताड़ गांव के साइबर ठग सुभाष मंडल मुंबई, गुजरात, बिहार झारखंड के लोगों को ठगी का शिकार बनाते थे. वहीं कर्माताड़ के अमडीहा गांव के ठग धीरे तुरी बंगाल, व झारखंड, बिहार राज्य को संभाल रहे थे.
एक मास्टरमाइंड राजेश मंडल भागने में सफल रहे. राजेश मंडल सियताड़ गांव का रहनेवाला था. एसपी ने कहा कि बंगाल के एक व्यक्ति से 25 हजार की ठगी करने के बाद टीम का गठन किया. टीम ने काफी मशक्कत के बाद ठगों को गिरफ्तार किया है.

इसे भी पढ़ेः इटखोरी : नाबालिग लड़की के अपहरण के मामले में इटखोरी में दो गिरफ्तार

सुभाष व धीरेन ने दर्जनों लोगों को बनाया शिकार

एसपी दीपक सिंह ने कहा कि इन ठगों ने दर्जनों लोगों को अपने जाल में फंसाया है. तीन महीने के अंदर साइबर ठग सुभाष मंडल ने 10 से 12 लोगों को शिकार बनाया. वहीं धीरेन तुरी ने 5 से 7 लोगों को जाल में फंसाया है. कहा ये ठग पूर्व में भी साइबर ठगी के आरोप में जेल जा चुका है.

इसे भी पढ़ेः कोडरमा : कोडरमा में कांग्रेस ने चलाया हस्ताक्षर अभियान, कई लोगों ने ली पार्टी की सदस्यता

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: