JamshedpurJharkhand

टाटानगर स्टेशन पर खड़ी पुरुषोत्तम एक्सप्रेस से पकड़ाया साइबर अपराधी

Jamshedpur :  जमशेदपुर साइबर पुलिस ने टाटानगर स्टेशन पर खड़ी पुरुषोत्तम एक्सप्रेस से कुख्यात साइबर अपराधी मनोज चौरसिया को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है. साइबर पुलिस के हत्थे चढ़ा मनोज चौरसिया बिहार के नालंदा जिले के कतरीसराय का रहने वाला है. उसके पास से दो मोबाइल, एक रेल टिकट और एक डुप्लीकेट आधार कार्ड बरामद किया गया है.

इसे भी पढ़ें : बिहार पंचायत चुनाव: ‘राज्य के सभी मतदान केंद्रों व मतगणना केंद्रों को तंबाकू मुक्त क्षेत्र घोषित करें’

advt

मनोज के पास से बरामद सिम कार्ड पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिला निवासी सबीर कुमार गांजी के नाम पर पाया गया है. गिरफ्तारी के बाद साइबर पुलिस ने उसे थाना लाकर पूछताछ की. इस दौरान उसने अपने गिरोह के कई कारनामों को पुलिस के समक्ष उजागर किया. उसने पुलिस को बताया कि वह अपने साथी संतोष कुमार, हरि चेतरु, बबलू कुमार, पंकज कुमार उर्फ चांदनी, मिथलेश कुमार उर्फ बुकुल, बिकास कुमार उर्फ जहरा और संजय सिह के साथ मिलकर लंबे समय से साइबर अपराध कर रहा है. वे लोगों को फर्जी स्क्रैच कूपन, दवाई भेजने के नाम पर, टावर लगवाने, लकी ड्रॉ, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी दिलाने के नाम पर ठगी करते थे. अब तक गिरोह के लोगों के साथ मिलकर वह करोड़ो रुपये की ठगी कर चुका है.

गिरोह का मुख्य सरगना हरि चेतरु और संतोष कुमार उर्फ सन्ना है. ठगी के रुपयों से वे लोग बिहार और झारखंड में कीमती प्लॉट, महंगे मकान, फ्लैट, और लग्जरी कार खरीदते थे.  इन चीजों के अलावा खुद मनोज ने एक गाड़ी का शोरूम खरीद रखा है. वह भुवनेश्वर जाकर देश भर में फर्जी लकी ड्रॉ पोस्ट करने की फिराक में था. उसी बीच जमशेदपुर साइबर पुलिस ने उस धर दबोचा है. साइबर पुलिस की बड़ी सफलता मानी जा रही  है. पुलिस ने मनोज चौरसिया के बैंक खाते को फ्रीज करते हुए पूछताछ के बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: