न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भाजपा नेता मुकुल राय, बेटे शुभ्रांशु के खिलाफ उनके क्षेत्र में लगे कट मनी पोस्टर

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य मुकुल रॉय और उनके बेटे शुभ्रांशु रॉय के खिलाफ उनके आवासीय क्षेत्र उत्तर 24 परगना के कचरापाड़ा में पोस्टर लगाये गये हैं.

35

Kolkata :  भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य मुकुल रॉय और उनके बेटे शुभ्रांशु रॉय के खिलाफ उनके आवासीय क्षेत्र उत्तर 24 परगना के कचरापाड़ा में पोस्टर लगाये गये हैं.  इन दोनों के खिलाफ कट मनी लेने का आरोप लगाया गया है. गुरुवार सुबह कचरापारापाड़ा के घटक रोड और थानापाड़ा मोड़ के पास ऐसे चार पोस्टर लगाये गये हैं.  इनमें लिखा गया है कि बाप बेटे ने पूरे कचरापाड़ा के लोगों के साथ धोखाधड़ी की है.

कचरापाड़ा के लोगों का करोड़ों रुपये का हिसाब देना होगा.  मुकुल रॉय और शुभ्रांशु राय तैयार रहिए.  इस बारे में प्रतिक्रिया के लिए मुकुल रॉय से संपर्क करने की कोशिश की गयी,  लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी.  उनके बेटे शुभ्रांशु रॉय ने फोन भी उठाया लेकिन इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

Trade Friends

इसे भी पढ़ेंः दुर्गापुरः नाबालिग की हत्या में संवेदना जताने आये भाजपा के दो नेता आपस में भिड़े

मुकुल तृणमूल के लिए सिरदर्द बन गये हैं.

Related Posts

#Asansol  : 120 घंटों के बाद अवैध कोयला खदान से निकाले गये तीन मजदूरों के शव  

16 घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद एनडीआरएफ  की टीम को मिली सफलता

WH MART 1

हालांकि कचरापाड़ा नगर पालिका के चेयरमैन सुदामा रॉय ने इस बारे में बात की. उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले मेरे खिलाफ भी इसी तरह के पोस्टर लगाये गये थे.  मुझे लगता है कि पूरे क्षेत्र में ऐसा कोई गिरोह काम कर रहा है, जो नेताओं के खिलाफ कट मनी का पोस्टर लगा रहा है.  मैंने पुलिस से पोस्टर लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने का निवेदन किया है. भाजपा के करीबी सूत्रों का कहना है कि पोस्टर तृणमूल के लोगों ने ही लगाये हैं,  ताकि भाजपा पर सवाल खड़ा किया जा सके.

उल्लेखनीय है कि एक दौर में ममता बनर्जी के अहम सहयोगी रहे मुकुल रॉय 2017 में भाजपा शामिल हो गये और 2019 का लोकसभा चुनाव के बाद उनके बेटे शुभ्रांशु रॉय ने भी भाजपा की सदस्यता ले ली है. उसके बाद से दोनों पिता-पुत्र के खिलाफ लगातार तृणमूल का शीर्ष नेतृत्व हमलावर रहा है.  यहां तक कि ममता बनर्जी भी मुकुल रॉय को गद्दार की संज्ञा दे चुकी हैं. चुनाव में मुकुल रॉय भाजपा के मुख्य रणनीतिकार थे. राज्य में पार्टी ने 42 में से 18 सीटों पर कब्जा जमाया है, जिसके बाद मुकुल तृणमूल के लिए सिरदर्द बन गये हैं.

इसे भी पढ़ेंः भाजपा हमेशा ममता बनर्जी के कार्यों  की नकल करती है : विधि मंत्री मलय घटक

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like