JamshedpurJharkhand

कमिंस ने दी सफाई – दफ्तर शिफ्ट करने से कारोबार, रोजगार और कल्याणकारी कार्यों पर नहीं पड़ेगा कोई असर

Jamshedpur : टाटा कमिंस कंपनी का रजिस्टर्ड ऑफिस जमशेदपुर से हटाकर पुणे शिफ्ट करने के खिलाफ झामुमो के विरोध प्रदर्शन के बीच टाटा कमिंस ने सफाई दी है. कंपनी ने एक बयान जारी कर कहा है कि उसके पंजीकृत कार्यालय को पुणे शिफ्ट करने के काम को जमशेदपुर में कंपनी के कारोबार, रोजगार और कल्याणकारी कार्यों से जोड़ कर नहीं देखा जाना चाहिए. टाटा कमिंस प्रालि (TCPL) के प्रबंध निदेशक अश्वथ राम और निदेशक अंजलि पांडे ने जमशेदपुर में कंपनी के मौजूदा संचालन कार्यों को झारखंड के बाहर स्थानांतरित करने के बारे में कुछ मीडिया में आ रही रिपोर्टों का खंडन किया है. उन्होंने कहा है कि कॉरपोरेट कार्यालय में प्रशासनिक कार्यों के संचालन में सुविधा के उद्देश्य से TCPL के पंजीकृत कार्यालय को जमशेदपुर से पुणे स्थानांतरित करने की प्रक्रिया कुछ वर्षों पहले आरंभ की गयी थी. बयान में कहा गया है कि पंजीकृत कार्यालय के स्थानांतरण से झारखंड राज्य अथवा जमशेदपुर में कंपनी के कारोबार, रोजगार और कल्याणकारी कार्यों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. कंपनी झारखंड राज्य में लागू श्रम कानूनों और अन्य नियमों का पालन करते आयी है और करती रहेगी.

जमशेदपुर में अपने कारोबार के संचालन के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध

बयान में कहा गया है कि हम जमशेदपुर में अपने कारोबार के संचालन के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं. साथ ही हम पहले की तरह ही झारखंड राज्य और जमशेदपुर क्षेत्र के विकास एवं समृद्धि में अपना योगदान देना जारी रखेंगे. हम अपने ग्राहकों, भागीदारों, निकटवर्ती समुदायों तथा लाभार्थियों की सफलता को और सशक्त करने के प्रति संकल्प बद्ध हैं और हम इस दिशा में लगातार काम करना जारी रखेंगे. बयान में कहा गया है कि हम 1993 से जमशेदपुर में अपने कारोबार का संचालन कर रहे हैं. पिछले 28 सालों के दौरान हमने हमेशा इनोवेशन और विश्वसनीयता के अपने ब्रांड के वादे पर खरा उतरने की कोशिश की है. हमने गत वर्षों में हज़ारों लोगों को जीविका दी है और जमशेदपुर में अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी अपनाने तथा उत्पादन क्षमता को बढ़ाने के लिए पर्याप्त निवेश किया है. इस क्षेत्र के साथ-साथ आसपास के इलाकों के प्रति अपनी कॉरपोरेट जिम्मेदारी को ईमानदारी से निभाते हुए कंपनी ने स्थानीय समुदायों के जीवन को बेहतर बनाने, पर्यावरण की सुरक्षा तथा समाज कल्याण की दिशा में सकारात्मक रूप से मदद की है. कंपनी ने कहा है कि कोविड-19 महामारी के दौरान TCPL के वरिष्ठ अधिकारियों तथा कर्मचारियों ने भी चिकित्सा सहायता एवं अन्य राहत सहायता उपलब्ध कराते हुए स्थानीय प्रशासन को अपना भरपूर सहयोग दिया है, जिसकी विभिन्न सरकारी एजेंसियों ने सराहना की है.

इसे भी पढ़ें – केंद्र सरकार जनता को मूल मुद्दों से भटका कर महंगाई बढ़ाने में लगी हैः राजेश ठाकुर

Related Articles

Back to top button