Crime NewsJharkhandRanchi

गहना घर गोलीकांड में शामिल अपराधियों की हो चुकी है पहचान, गिरफ्तारी में जुटी पुलिस

Ranchi: लालपुर थाना क्षेत्र के अमरावती कांप्लेक्स स्थित ज्वेलरी दुकान गहना घर गोलीकांड का पुलिस जल्द खुलासा कर सकती है. पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस मामले में पुलिस ने घटना में शामिल अपराधियों की पहचान कर ली है.

जिससे उम्मीद जतायी जा रही है कि रांची पुलिस के द्वारा जल्द ही घटना में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर पूरे घटनाक्रम का उद्भेदन कर दिया जायेगा.

गौरतलब है कि 14 अक्टूबर को गहना घर में लूटपाट का विरोध करने पर अपराधियों ने दुकान के मालिक दो भाई रोहित खिरवाल और राहुल खिरवाल को गोली मार दिया था.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें- #ViralVideo: मुख्यमंत्री जोहार जनआशीर्वाद यात्रा में क्या नहीं जुट रही भीड़, महिलाओं को साड़ी का लालच देकर बुलाया!

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

अपराधियों को लेकर पुलिस को मिले हैं महत्वपूर्ण सुराग

गहना घर गोलीबारी की घटना में शामिल अपराधियों के बारे में पुलिस को महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं. उनकी पहचान हो चुकी है. अब पुलिस बस अपराधियों की गिरफ्तारी में जुटी है.

अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस बिहार के कई शहर समेत कई और संभावित जगहों पर छापेमारी कर रही है. जिस गिरोह ने घटना का अंजाम दिया था उसको भी पुलिस के द्वारा चिन्हित कर लिया है.

इसे भी पढ़ें- खूंटी: सुखराम मुंडा हत्याकांड की तरह नहीं सुलझा उपमुखिया दंपति मर्डर मिस्ट्री, पिछले 9 दिनों में 5 हत्या

लूटपाट की नीयत से आये थे अपराधी

14 अक्टूबर को गहना घर में दिन के करीब 2:00 बजे के आसपास दो बाइक पर सवार होकर आये पांच की संख्या में अपराधियों ने दुकान में लूटपाट की कोशिश की थी.

जिसका विरोध करने पर दो सगे भाइयों को गोली मारकर अपराधी मौके से फरार हो गये थे. पुलिस की प्रारंभिक छानबीन में यह खुलासा हुआ है कि व्यवसायी बंधुओं को मारने का उद्देश्य नहीं था. वहां दिनदहाड़े लूटपाट का पूरा प्लान बना था. डकैत हाथों में ग्लव्स पहने हुए थे और बैग भी लिये हुए थे. लूटपाट के गहनों को बैग में भरकर फरार होने की तैयारी थी.

अपराधी दुकान से 8 अंगूठी ले भागे थे. रोहित के पेट में गोली लगी थी, जबकि राहुल के पेट और जांघ में दो गोलियां लगी थीं. दोनों भाइयों का इलाज दिल्ली में चल रहा है.

Related Articles

Back to top button