न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

देश में कच्चे तेल का उत्पादन 4% गिरा, बढ़ेगी आयात पर निर्भरता

636

New Delhi : वित्तीय वर्ष 2018-19 में देश का कच्चा तेल उत्पादन चार प्रतिशत से अधिक गिर है. आधिकारिक आंकड़ों से यह साफ हुआ है कि यह गिरावट ना सिर्फ सरकारी कंपनियों बल्कि निजी क्षेत्र की कंपनियों में भी देखी गयी है.

इससे देश को तेल की निर्भरता को लेकर आयात पर ज्यादा निर्भर रहना पड़ेगा. उत्पादन में गिरावट की वजह ओएनजीसी और ऑयल इंडिया लिमिटेड के पुराने हो रहे तेल क्षेत्रों का उत्पादन लक्ष्य से कम रहना बताया गया है.

इसे भी पढ़ें – करतारपुर गलियारा में देर करने पर पाक ने कहा- बातचीत के आयोजन पर इच्छुक नहीं भारत

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक वित्तीय वर्ष 2018-19 में देश का कच्चा तेल उत्पादन 342 लाख टन रहा. जबकि इससे पहले के वित्तीय वर्ष 2017-18 में 357 लाख टन रहा था. इस दौरान ओएनजीसी का उत्पादन 222.50 लाख टन से गिरकर 210 लाख टन पर आ गया है.

ऑयल इंडिया लिमिटेड का उत्पादन भी 2.50 प्रतिशत गिरकर 33 लाख टन तथा निजी क्षेत्र की कंपनियों का उत्पादन भी दो प्रतिशत गिरकर 98 लाख टन रहा.

इसे भी पढ़ें – चुनाव से पहले नक्सलियों का आतंक, उड़ाया BJP चुनावी कार्यालय

प्राकृतिक गैस के उत्पादन में तेजी आयी है

ओएनजीसी के उत्पादन में मुख्यत: मुंबई और नीलम हीरा क्षेत्रों की तकनीकी दिक्कत तथा गुजरात के संथाल और बलोल क्षेत्रों के उत्पादन में कमी के कारण गिरावट आयी है. मार्च महीने में देश का कुल कच्चा तेल उत्पादन पिछले साल के 30.40 लाख टन की तुलना में 28.50 लाख टन पर आ गया.

हालांकि इस दौरान प्राकृतिक गैस के उत्पादन में तेजी आयी है. वित्त वर्ष 2018-19 में प्राकृतिक गैस का उत्पादन 32.6 अरब घन मीटर (बीसीएम) से बढ़कर 32.9 बीसीएम पर पहुंच गया. ओएनजीसी का उत्पादन 5.30 प्रतिशत बढ़कर 24.67 बीसीएम पर पहुंच गया है.

इसे भी पढ़ें – PM मोदी आज वाराणसी में दाखिल करेंगे नामांकन, NDA के कई दिग्गज रहेंगे मौजूद

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: