न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सार्वजनिक रास्ते पर सीआरपीएफ जवान ने बना डाली दीवार, सीएम के आदेश पर भी नहीं हटा अतिक्रमण

32

Palamu: पलामू के तरहसी थाना क्षेत्र के चैरा गांव में सार्वजनिक रास्ते पर दीवार देकर उसे बंद करा देने का मामला प्रकाश में आया है. रास्ता बंद होने से परेशान ग्रामीणों ने शुक्रवार को जिले के उपायुक्त से मिलकर अतिक्रमण हटाने की गुहार लगायी है.

डीसी से मिले ग्रामीण

ग्रामीणों ने तरहसी अंचलाधिकारी पर सीआरपीएफ जवान के साथ मिलीभगत का आरोप लगाया है. इसी वजह से सड़क से अबतक अतिक्रमण नहीं हटाया जा सका है. ग्रामीणों को आश्वस्त करते हुए उपायुक्त ने कहा कि मामले की जांच की जायेगी और अगर अतिक्रमण का मामला बनता है, तो उसे हटाया जायेगा और सुस्ती बरतने वाले कर्मियों पर कार्रवाई होगी. उपायुक्त ने फोन पर तरहसी सीओ को एक सप्ताह के भीतर अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया है.

सीआरपीएफ जवान ने बंद किया रास्ता

ग्रामीणों ने उपायुक्त को बताया कि चैरा गांव के सीआरपीएफ जवान अभिषेक पांडेय उर्फ कुणाल पांडेय व विवेक पांडेय ने सार्वजनिक रास्ता पर दीवार देकर लोहे का गेट लगा दिया है. रास्ते पर अतिक्रमण किए जाने के बाद गांव में आवागमन बाधित हो गया है. ग्रामीणों का कहना है कि सार्वजनिक रास्ता से अतिक्रमण हटाने की शिकायत तरहसी थाना प्रभारी, तरहसी अंचल पदाधिकारी और मुख्यमंत्री जनसंवाद में भी की गयी. अंचल पदाधिकारी ने भी अपनी जांच में रास्ते में अतिक्रमण किए जाने की पुष्टि की थी.

सीएम जनसंवाद के आदेश पर भी नहीं हटा अतिक्रमण

ग्रामीणों ने बताया है कि मुख्यमंत्री जनसंवाद से अतिक्रमण हटाने का आदेश जिले के नोडल पदाधिकारी हैदर अली व तरहसी अंचलाधिकारी पवन आशीष लकड़ा को निर्देश दिया गया था. इसके बाद भी कार्रवाई नहीं हुई. पलामू के प्रमंडलीय आयुक्त ने भी एक माह पूर्व आदेश दिया था कि सार्वजनिक स्थल से अतिक्रमण हटाया जाए, लेकिन सीआरपीएफ जवान अभिषेक पांडेय के पावर, पैसा और दबंगई के चलते अबतक अतिक्रमण नहीं हट पाया है.

सीआरपीएफ जवान होने का दिया जाता है धौंस

ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि अभिषेक पांडेय सीआरपीएफ जवान होने का धौंस देता है. साथ ही सभी को झूठे मुकदमे में फंसाने की भी धमकी देने का आरोप ग्रामीणों ने लगाया. ग्रामीणों ने उपायुक्त से जानमाल की सुरक्षा की गुहार भी लगायी है. डीसी से फरियाद करने वालों में प्रभा देवी, पुष्पा देवी, उर्मिला देवी, प्रमिला देवी, शिव साव, गीता देवी, सीमा कुमारी, सुनीता पांडेय, वीरेंद्र साव, मीना देवी, शिमला देवी, तारा देवी अशोक पांडेय सहित अन्य लोग शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंःSC/ST के आरक्षित सरकारी सेवकों को नहीं मिल रहा प्रमोशन, एक ही पद पर काम करते हो जाते हैं रिटायर्ड- हेंब्रम

 

इसे भी पढ़ेंःराजकीय बजट के जेंडर बजटिंग में हो रही है गिरावट

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: