JharkhandPalamu

पलामू: सतबरवा में चार वर्षीया बच्ची की पटक कर हत्या, CRPF और मनिका पुलिस पर हत्या का आरोप 

Palamu:  फर्जी मुठभेड़ के लिए चर्चित सतबरवा के बकोरिया गांव में पुलिस-सीआरपीएफ का अमानवीय चेहरा सामने आया है. बकोरिया गांव में बीती रात उग्रवादी पिता के नहीं मिलने पर एक चार बच्चे की पटक कर हत्या कर दी गयी. हत्या का आरोप लातेहार में तैनात सीआरपीएफ की 133 बटालियन के जवान और मनिका पुलिस पर लगाया गया है. पलामू पुलिस की ओर से मामले की छानबीन तेज कर दी गयी है. डीएसपी शंभू सिंह और सतबरवा के थाना प्रभारी रूपेश कुमार दुबे मामले की छानबीन में लगे हुए हैं.

ram janam hospital

इसे भी पढ़ेंः पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली का निधन, शोक की लहर

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल, शुक्रवार की देर रात लातेहार में तैनात सीआरपीएफ 133 बटालियन के जवान और मनिका पुलिस जेजेएमपी उग्रवादियों की टोह में लगी हुई थी. पुलिस और सीआरपीएफ अभियान चलाते हुए मनिका से सटे सतबरवा के बकोरिया में पहुंची. पुलिस टीम को सूचना मिली थी कि जेजेएमपी के उग्रवादी विनोद सिंह अपने गांव में मौजूद है. सूचना पर टीम विनोद सिंह के घर पहुंची और दरवाजा खोलवाने लगी, लेकिन परिजनों ने पहचान नहीं होने के कारण दरवाजा नहीं खोला.

इसे भी पढ़ेंः अमेरिका-चीन ट्रेड वार चरम पर,  ट्रंप ने कहा, हमें चीन की जरूरत नहीं, अमेरिकी कंपनियां चीन छोड़ें

दरवाजा नहीं खोलने पर बच्ची को पटका

विनोद सिंह की पत्नी ने बताया कि आधी रात को कुछ लोग स्वयं को पुलिस और सीआरपीएफ जवान बताकर दरवाजा खुलवाने लगे. सारे लोग विनोद सिंह (उनके पति) को खोज रहे थे. इससे परिवार के सारे लोग डर गए. कहा कि रात को बिना किसी ठोस जानकारी के दरवाजा नहीं खोलेंगे. इस पर खिड़की से बच्चे (लड़की) को पकड़ लिया और उसे पटक दिया, जिससे उसकी मौत हो गयी.

मामले की जांच की जा रही है: सतबरवा थाना प्रभारी

सतबरवा के थाना प्रभारी रूपेश कुमार दुबे ने बताया कि बकोरिया निवासी विनोद सिंह की चार वर्षीया पुत्री विनीता कुमारी की मौत हुई है. परिवार के लोग सीआरपीएफ जवानों पर बच्ची को पटकर मार डालने का आरोप लगा रहे हैं. शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में भेजा गया है. जांच तेज की गयी है. जांच के बाद ही कहा जा सकता है कि घटना के सीआरपीएफ के साथ मनिका पुलिस थी या नहीं?

आरोपों की होगी जांच: एसपी

पलामू एसपी अजय लिंडा ने पत्रकारों को बताया कि परिजनों के आरोपो की जांच की जायेगी. पुलिस सभी तथ्यों पर जांच कर रही है और पोस्टमार्टम के बाद पूरे तथ्यों का खुलासा होगा. एसपी ने बताया कि लातेहार पुलिस और सीआरपीएफ की टीम सर्च अभियान चला रही थी.

इसे भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़ : सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में पांच नक्सली ढेर, दो जवान घायल

Advt
Advt

Related Articles

Back to top button