Corona_UpdatesNational

#LockDown के बावजूद हो रही भीड़: महाराष्ट्र में निकली रथयात्रा, तो तेलंगाना में मंत्री पहुंचे मंदिर

NW Desk: देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू है. लोगों को घरों से बेवजह निकलने से रोक है. कहीं भी भीड़ नहीं करने की बात कही गयी है. लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की गयी है. इसके बावजूद रोजाना कहीं न कहीं से भीड़ जमा होने की खबरें आ रही हैं. लोग धार्मिक आयोजने के नाम पर भीड़ कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- 5 अप्रैल को 9 मिनट लाईट बुझाने और मोमबत्ती जलाने के चक्कर में ना हो जाये पूरे देश की बिजली गुल

22 लोग हिरासत में 

ताजा मामला महाराष्ट्र के सोलापुर का है. जहां पर धार्मिक आयोजन के नाम पर रथयात्रा निकली. सैकड़ों लोग इसमें शामिल होने के लिए आये. इस बार रथयात्रा में लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ायी गयी. लॉकडाउन लागू रहने की वजह से पुलिस ने भीड़े को रोकने की कोशिश की. उन्हें समझाया गया कि भीड़ की वजह से कोरोना वायरस का प्रकोप देश में बढ़ सकता है.

लेकिन इसपर लोगों ने पुलिस पर ही उलटा पथराव करना शुरू कर दिया. इस घटना में कई पुलिस वाले घायल भी हो गये. जबकि इस मामले को लेकर 100 से ज्यादा लोगों पर केस दर्ज किया गया है. वहीं 22 लोगों को पुलिस ने हिरासत में भी लिया है.

इसे भी पढ़ें-
#Covid19 का बढ़ता प्रकोपः देश में 12 घंटों में कोरोना वायरस के 355 नये केस, 6 लोगों की मौत

पुलिस पर किया पथराव

गौरतलब है कि सोलापुर के वागदरी गांव में ग्रामदेवता परमेश्वर की पूजा की जाती है. उन्ही के लिए यह त्योहार मनाया जाता है. यह त्योहार पांच दिनों का होता है. इसमें रथयात्रा निकाली जाती है. लेकिन देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले और लॉकडाउन की वजह से रथयात्रा निकाले जाने पर रोक लगा दी गयी थी.

जिसके बाद जिस दिन रथयात्रा निकाली जानी थी उस दिन पुलिस ने गांव के कुछ लोगों को रथ पूजा करने की इजाजत दे दी. जिसके बाद लोगों ने रथ पूजा शुरू की. जैसे ही पूजा शुरू की गयी देखते ही देखते लोगों की भीड़ वहां जमा होने लगी और लोग रथयात्रा निकालने लगे. यह देख पुलिस ने उन्हें रोका तो उनपर पथराव किया गया.

इसे भी पढ़ें-देश में Covid-19 से मृतकों की संख्या हुई 68, संक्रमण के 2,902 केस

तेलंगाना के दो मंत्री परिवार संग पहुंचे मंदिर

महाराष्ट्र ही नहीं तेलंगाना में भी कुछ ऐसा ही मंजर देखने को मिला जहां लॉकडाउन का उल्लंघन करते कोई और नहीं जबकि खुद वहां के दो मंत्री नजर आये. बात पूरानी है लेकिन इतनी नहीं की जिक्र न किया जा सके. यह मामले 2 अप्रैल का है जिस दिन रामनवमी का त्योहार था. इस दिन तेलंगाना से कुछ तस्वीरें सामने आयीं थी.

इन तस्वीरों में तेलंगाना के दो मंभी रामनवमी मनाने के लिए मंदिर पहुंचे थे. ये मंत्री अकेले नहीं जबकी अपने परिवार वालों के साथ मंदिर गये थे और वहां पूजा की थी. इन तस्वीरों में साफ तौर पर भीड़ देखी जा सकती है. तेलंगाना के पर्यावरण, कानून और वन्य विभाग मंत्री अलोला इंद्रकरण रेड्डी, श्री सीता रामचंद्र स्वामी मंदिर गये थे. वहीं मंत्री पुव्वाडा अजय कुमार जो कि ट्रांसपोर्ट विभाग संभाल रहे हैं भी मौजूद रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button