JharkhandRanchi

राजधानी रांची में अपराधी बेखौफ, जमीन कारोबारी को मारी गोली

Ranchi: राजधानी रांची में अपराधी बेखौफ होकर आपराधिक वारदात को अंजाम दे रहे हैं. मंगलवार की रात बाइक सवार अपराधियों ने कांके थाना क्षेत्र स्थित आइटीबीपी कैंप के पास जमीन कारोबारी को गोली मारकर घायल कर दिया. जमीन कारोबारी का नाम दिलीप कुमार सिंह है और वह कई वर्षों से जमीन का कारोबार कर रहे हैं.

बाइक सवार अपराधियों ने जमीन कारोबारी की कार रोककर पहले सवाल जवाब किया उसके बाद जांघ में गोली मार कर भाग गया. गोली मारने के पहले बाइक सवार अपराधियों ने जमीन कारोबारी की मोबाइल और नगदी पैसे भी छीन लिए. जमीन कारोबारी अपने कार से घर की ओर जा रहे थे. इसी बीच आइटीबीपी कैंप के पास बाइक सवार अज्ञात अपराधियों ने कार को रोक कर घटना को अंजाम दिया है.

इसे भी पढ़ें: Side effect of corona : चाइल्ड सेफ्टी के लिए चुनौती बनी ऑनलाइन लर्निंग, यूनीसेफ ने कहा – साइबर बुलिंग से लेकर क्राइम तक के शिकार हो रहे बच्चे

Catalyst IAS
ram janam hospital

वरीय पदाधिकारी ने कहा जमीन विवाद में चली होगी गोली

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने बताया कि प्रथम दृष्टया में यह जमीन से जुड़े मामले को लेकर गोली चलाई गई होगी. ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने बताया कि आइटीबीपी कैंप के पास लगे सीसीटीवी फुटेज को पुलिस खंगाल रही है और अपराधियों को चिन्हित करने के प्रयास किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि जमीन कारोबारी दिलीप कुमार सिंह से भी पूछताछ की गई है लेकिन उन्होंने बताया कि बाइक सवार अपराधियों को नहीं पहचानते हैं.

बता दें कि राज्य के डीजीपी नीरज सिन्हा ने 2 फरवरी को हाई लेवल मीटिंग किया था और अपराध की घटनाओं को रोकने के लिए विचार विमर्श किया गया था. डीजीपी नीरज सिन्हा ने पुलिस के वरीय पदाधिकारियों को सख्त निर्देश दिया था कि अपराधिक वारदात को हर हालत में नियंत्रण करना होगा. उसके बावजूद अपराधियों के हौसले बुलंद हैं और लगातार आपराधिक वारदात की घटना को अंजाम दे रहे हैं.

जगन्नाथपुर इलाके में एक दिन पहले हुई थी 14 राउंड फायरिंग

जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र स्थित हेसाग बस्ती में 1 दिन पहले देर रात दो बाइक सवार अपराधियों ने 14 राउंड फायरिंग किया था. इस घटना से हेसाग बस्ती में खौफ का माहौल है. लेकिन पुलिस अब तक किसी भी अपराधियों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है. हालांकि यह पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो जाने के बावजूद पुलिस के हाथ खाली है.

Related Articles

Back to top button