Crime NewsDumkaJharkhand

पुलिस हिरासत में अपराधी ने की आत्महत्या, हाजत की जगह पुलिस क्वार्टर में था बंद

विज्ञापन

Dumka : शिकारीपाड़ा थाना परिसर में पुलिस के द्वारा हिरासत में लिए आशीष टुडू नाम के अपराधी ने सोमवार की देर रात थाना परिसर में बने पुलिस क्वाटर में आत्महत्या कर ली. आशीष ने पुलिस क्वार्टर के रसोईघर में अपने ही गमछे का फंदा बनाकर फांसी लगा लिया.

पुलिस ने सोमवार को किसी अपराधिक घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे दो लोगों को पकड़ा था. दोनों का नाम आशीष टुडु और जयराम भगत बताया जा रहा है. दोनों को पुलिस ने मलूटी गांव से पकडा था.

advt

पुलिस की हिरासत में आरोपी द्वारा आत्महत्या किये जाने के बाद तरह-तरह के सवाल उठ रहे हैं. पुलिस ने घटना के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं पुलिस हिरासत में अपराधी द्वारा आत्महत्या किये जाने के मामले में एसपी ने थाना प्रभारी से 24 घंटों के अंदर जवाब मांगा है.

इसे भी पढ़ें- कोल कारोबारी अग्रवाल, साहू और अफसरों का करीबी गुप्ता देता है गैंगस्टर अमन श्रीवास्तव को संरक्षण

हाजत की जगह पुलिस क्वार्टर में बंद थे दोनों अपराधी

किसी अपराधिक घटना को अंजाम देने की सूचना पर मलूटी गांव के ग्रामीणों की मदद से शिकारीपाड़ा थाना पुलिस ने जयराम भगत और आशीष टुडू नाम के दो लोगों को पकड़ा था. थाना प्रभारी ने दोनों को हाजत में रखने की जगह पुलिस क्वार्टर में रखा था.

adv

जिसके बाद सोमवार देर रात आशीष टुडु ने क्वार्टर के रसोईघर में फांसी लगाकर अपनी जान दे दी. बताया जा रहा है कि आशीष पर पाकुड़ के महेशपुर में 2017 में डकैती का केस हुआ था. जिसमें वह जेल भी गया था.

इसे भी पढ़ें- उन्नाव रेप केस : सड़क दुर्घटना में घायल पीड़िता के वकील को विशेष एयर एंबुलेंस से भेजा गया दिल्ली 

पुलिस अधिकारी कर रहे हैं मामले की जांच

पुलिस आशीष टुडू की फांसी लगाकर आत्महत्या करने के मामले में जांच कर रही है. पुलिस अधीक्षक सहित कई पुलिस अधिकारी शिकारीपाड़ा थाना पहुंच कर मामले की जांच कर रहे हैं.

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के गाइडलाइंस के अनुरूप पूरे जांच प्रक्रिया की वीडियोग्राफी करायी जा रही है. दंडाधिकारी और पुलिस अधीक्षक खुद घटना की जांच कर रहे हैं.

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close