JharkhandKodermaNEWS

पेट्रोल, डीजल, सरसों तेल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ माकपा का विरोध प्रदर्शन

KODERMA: बढ़ती महंगाई, स्वास्थ्य सेवाओं में संकट, बेरोजगारी, छंटनी, वेतन कटौती, पेट्रोल- डीजल, गैस और सरसो तेल की कीमतों में जबरदस्त बढ़ोतरी के खिलाफ मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की देशव्यापी विरोध पखवाड़ा गांव चलो अभियान के तहत सोमवार को ग्राम करहरिया, मेघातरी में माकपा कार्यकर्ताओं ने अक्रोशपूर्ण विरोध प्रदर्शन किया और बढ़ती महंगाई पर रोक लगाओ, पेट्रोल डीजल रसोई गैस मे भारी मूल्य वृद्धि वापस लो, वाह रे मोदी तेरा खेल 200 रुपये सरसों तेल, मोदी सरकार हाय हाय आदि नारे लगाए. माकपा कार्यकर्ताओं ने सरकार से मांग किया कि सरकार पेट्रोल-डीजल व गैस के बढ़े दाम वापस ले और बढ़ती महंगाई पर रोक लगाए व खाद्य पदार्थों की बढ़ी कीमतें कम करें और बिना राशन कार्ड वाले जरूरतमंद सभी लोगों को मुफ्त राशन दें, गैर आयकर दाता सभी परिवारों को 7500 रुपये प्रति माह आर्थिक सहायता दे, राशन में दाल,चीनी, तेल आदि सभी आवश्यक चीजें शामिल कर सभी को राशन किट दी जाए, कोरोना से हुई मौत पर परिवारों को चार लाख देने और ग्रामीण स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने की मांग की गई.

 

इसे भी पढ़ें : पंचायत चुनावः झारखंड में कम होंगे 57 मुखिया, नगर की सरकार में होगा इजाफा

माकपा राज्य सचिवमण्डल सदस्य संजय पासवान ने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों को गरीब व जनविरोधी करार देते हुए कहा कि मोदी सरकार की कॉरपोरेट परस्त आर्थिक नीतियों के कारण महंगाई तेजी से बढ़ रही है वहीं दूसरी ओर पेट्रोल डीजल रसोई गैस के मूल्यों में भी भारी वृद्धि से जनता पर महंगाई का भारी बोझ डाल दिया गया है. सीपीएम के ज़िला सचिव असीम सरकार ने कहा कि बेड, ऑक्सीजन, दवा नहीं मिलने के कारण कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में हजारों लोगों की जान चली गई. लॉकडाउन के दौरान अमीर और अमीर हो गए, वहीं मिडिल क्लास और ग़रीब तबके का बुरा हाल हो गया. देश में बढ़ रहे रोजी रोटी के संकट ने गरीबों को भारी परेशानियों में डाल दिया है. उन्होंने कहा कि यदि सरकार उपरोक्त मुद्दों पर शीघ्र कदम उठाकर जनता को राहत नहीं पहुंचाएगी तो मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी जनता को लामबंद कर आंदोलन को और तेज़ करेगी. अध्यक्षता भीखारी तुरी व संचालन ग्यासुद्दीन अंसारी ने किया. कार्यक्रम में कन्हाई सिंह, गणेश तुरी, रामस्वरूप रजवार, अर्जुन सिंह, कारू सिंह, राजेन्द्र सिंह, सोनू सिंह, प्रयाग सिंह, टेकलाल दास, प्रयाग सिंह, मनोज सिंह, लक्ष्मण सिंह, विशेश्वर सिंह, टिंकु सिंह, विजय सिंह, भुनेश्वर सिंह, झमिया देवी, पार्वती देवी, बसंती देवी सहित दर्जनों लोग मौजूद थे.

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: