GiridihJharkhand

हेमंत सरकार के खिलाफ भाकपा माले का जनाक्रोश मार्च

Giridih: राज्य सरकार के खिलाफ सोमवार को भाकपा माले की जिला कमेटी ने जनाक्रोश मार्च निकाला. जिसमें हजारों की संख्या में माले समर्थकों का जुटान हुआ. जनाक्रोश मार्च में बगोदर विधायक के साथ माले नेता राजेश यादव, राजेश सिन्हा, जयंती चौधरी, उस्मान अंसारी, संदीप जायसवाल, किशोरी अग्रवाल, मनोज यादव, पवन चौधरी, रिजवान अंसारी, पिंकी भारती और कन्हैया सिंह समेत कई माले समर्थक शामिल हुए. जनाक्रोश मार्च शहर से निकल कर पपरवाटांड स्थित समाहरणालय भवन पहुंचा. जहां माले समर्थकों ने मौके पर हेमंत सरकार और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया. माले कैडर का हुजूम विधायक और माले नेताओं के साथ समाहरणालय भवन परिसर के भीतर घुसने का प्रयास किया. लेकिन प्रदर्शन को देखते हुए नगर और मुफ्फसिल थाना की पुलिस पहले से मुस्तैद थी.

लिहाजा, समाहरणालय घुसने का पहला प्रयास माले समर्थका का विफल रहा. लेकिन जब विधायक विनोद सिंह ने गेट खुलावाया, उसके बाद समर्थको का हुजूम भीतर घुसा. जहां परिसर में सभा हुई.

इसे भी पढ़ें:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, 4 कांग्रेसी गिरफ्तार

Catalyst IAS
ram janam hospital

इस दौरान हेमंत सरकार और प्रशासनिक कार्रवाई पर विधायक ने जमकर भड़ास नकिला और कहा कि बालू, कोयला और माइका से हजारों लोगों का रोजगार जुड़ा हुआ है. जब सरकार नौकरी नहीं दे पा रही है तो इन खनिजों के कारोबार को अवैध बताकर मजदूरों के रोजगार को क्यों छीन रही. उन्होंने कहा कि संथाल परगना में पत्थरों का अवैध कारोबार चल रहा है. लेकिन हेमंत सरकार उसे लेकर क्यों चुप है, उस पर भी कार्रवाई होना चाहिए.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इसके बाद जब पूर्व विधायक राजकुमार यादव सामने आए, तो पूर्व विधायक यादव ने अपना पूरा भड़ास ही हेमंत सरकार और प्रशासन पर निकाला. और कहा कि बालू, कोयला और माइका को अवैध बताकर कार्रवाई बंद करे प्रशासन. नहीं तो हजारों मजदूर सड़कों पर उतरेगें. पूरे जिले को ठप कर दिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें:सचिवालय सेवा के अधिकारियों को प्रमोशन के लिए करना होगा इंतजार, बैठक नहीं हो सकी

एक तरफ सरकारी योजनाओं के नाम पर ठेकेदार उसी बालू को औने-पौने दाम में खरीद रहे है तो दुसरी तरफ कई लोग अपना मकान बनाने के लिए हजारों रुपए का भुगतान बालू के लिए कर रहे है.

सभा के बाद विधायक के नेत्तृव में माले नेताओं का शिष्टमंडल डीसी नमन प्रियेश लकड़ा से मिल, और माइका, कोयला और बालू के खिलाफ कार्रवाई बंद करने की अपील की.

इसे भी पढ़ें:झारखंड : फिर से अपनी ही सरकार के खिलाफ कांग्रेस विधायकों में रोष, विधायक दल की बैठक में निकाली भड़ास

Related Articles

Back to top button