न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पीएम की जाति पूछने पर फंसी कांग्रेस, राहुल की फटकार के बाद सीपी जोशी ने जताया खेद

73

New Delhi: पांच राज्यों में चुनावी सरगर्मी के बीच जुबानी जंग भी तेज है. लेकिन एकबार फिर कांग्रेस नेता की अनर्गल बयानबाजी के बाद राहुल गांधी को पार्टी के डैमज कंट्रोल के लिए आगे आना पड़ा है. सीपी जोशी के बयान के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सफाई दी कि सीपी जोशी का बयान कांग्रेस पार्टी के आदर्शों के विपरीत है.

पार्टी के आर्देशों के विपरीत बयान

सीपी जोशी के पीएम मोदी के जाति पर सवाल उठाने पर राजनीतिक भूचाल-सा आ गया है. बीजेपी ने बयान की कड़ी निंदा करते हुए इसे चौंकाने वाला बताया था. वही बयान पर गरमाती राजनीति के बीच राहुल गांधी ने विवाद को रोकने की कोशिश करते हुए इसे पार्टी के आदर्शों के विपरीत बताया और जोशी से खेद जताने को कहा.

राहुल के निर्देश पर जोशी ने जताया खेद

पार्टी अध्यक्ष के सामने आने के बाद कांग्रेस के बड़े नेता सीपी जोशी ने अपने बयान पर खेद जताते हुए ट्वीट किया. हालांकि, इसके पहले उनका कहना था कि उनके बयान को बीजेपी ने तोड़मरोड़ कर पेश किया है, और वो इसकी निंदा करते हैं. लेकिन राहुल गांधी के निर्देश के बाद उन्होंने ट्वीट किया कि, ‘कांग्रेस के सिद्धांतों एवं कार्यकर्ताओं की भावनाओं का सम्मान करते हुए मेरे कथन से समाज के किसी वर्ग को ठेस पहुंची हो तो मैं उसके लिए खेद प्रकट करता हूं.’

क्या कहा था सीपी जोशी ने

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सीपी जोशी ने राजस्थान में गुरुवार को एक चुनावी सभा के दौरान कहा था कि ब्राह्मण ही धर्म के बारे में बोल सकता है. उन्होंने पीएम मोदी और केंद्रीय मंत्री उमा भारती की जाति पर सवाल उठाते हुए कहा, आपको पता है कि उमा भारती और पीएम मोदी किस जाति के हैं. इसके साथ ही उन्होंने राम मंदिर आंदोलन से जुड़ी रहीं साध्वी ऋतंभरा पर भी निशाना साधते हुए कहा कि वह किस जाति की हैं, यह लोग धर्म के बारे में क्या जानते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: