Corona_UpdatesJharkhandRanchi

मोबाइल टेस्टिंग वैन से होगा कोविड सैंपल कलेक्शन, 24 घंटे में मिलेगी रिपोर्ट

-हेल्थ डिपार्टमेंट जेआइटीएम के साथ करेगा एमओयू, 12 जिलों में जल्द होगी शुरुआत

Ranchi : कोरोना के मामले भले ही कम हो गये हैं, लेकिन हेल्थ डिपार्टमेंट इस बार कोई रिस्क लेने के मूड में नहीं है. ऐसे में रांची समेत 12 जिलों में मोबाइल टेस्टिंग वैन की शुरुआत की जा रही है. वहीं धीरे-धीरे झारखंड के सभी जिलों में इसकी शुरुआत की जायेगी. जिसके तहत वैन घूम-घूम कर कोविड सैंपल कलेक्शन करेगा और टेस्ट के लिए उसे लैब में भेजा जायेगा.

जहां से 24 घंटे के अंदर टेस्ट करानेवालों को रिपोर्ट दे दी जायेगी. हेल्थ डिपार्टमेंट जेआइटीएम के साथ मोबाइल टेस्टिंग वैन के संचालन के लिए एमओयू करने जा रहा है. इस सर्विस के शुरू होने से ज्यादा से ज्यादा कोरोना मरीजों की पहचान कर इलाज करने में मदद मिलेगी. साथ ही इसे फैलने से रोका जा सकेगा.

इसे भी पढ़ें: गिरिडीह के निमियाघाट रेलवे लाइन पर सिर कटी लाश मिली

advt

फर्स्ट फेज में इन जिलों में होगी शुरुआत

पहले फेज में रांची, धनबाद, गढ़वा, गुमला, सिमडेगा, ईस्ट सिंहभूम, बोकारो, देवघर, लातेहार, साहेबगंज, जामताड़ा व पाकुड़ से इसकी शुरुआत होगी.

7 जिलों में खोले जायेंगे rt-pcr लैब

हेल्थ डिपार्टमेंट ने सात जिलों में आरटीपीसीआर लैब खोलने की योजना बनायी है. जहां लैब का काम भी शुरू कर दिया गया है. इन लैब्स के चालू हो जाने पर सैंपल टेस्टिंग के लिए जिलों को मेडिकल कॉलेज के लैब पर निर्भर नहीं रहना होगा. वहीं सैंपल पेंडिंग की समस्या भी नहीं होगी. इसके अलावा सात और जिलों में आरटीपीसीआर लैब खोलने की पॉलिसी पर भी काम चल रहा है.

वैन में ही सैंपल कलेक्शन और टेस्टिंग

हेल्थ डिपार्टमेंट जल्द ही एक मोबाइल वैन के संचालन के लिए टेंडर निकालने जा रहा है. जिसके तहत मोबाइल वैन में ही सैंपल कलेक्शन और टेस्टिंग दोनों की फैसिलिटी मिलेगी. यह वैन हर इलाके में मूव करेगी और सैंपल कलेक्ट करेगी. इसके बाद 24 से 36 घंटे के अंदर कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट भी देगी. जिससे कोरोना से संक्रमित व्यक्ति को बीमारी का पता चल जायेगा और संक्रमण रोकने में मदद मिलेगी.

इसे भी पढ़ें:45 दिनों में कोरोना वायरस के सबसे कम मामले आये, संक्रमण दर घट कर 8.36 पर

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: