JharkhandLead NewsSports

Covid-19 Challenge: सालभर से SAI Centre का मुंह नहीं देखा था खिलाड़ियों ने, अब कोरोना की दूसरी लहर में फिर टूटी आस

Ranchi: स्पोर्ट्स अथारिटी ऑफ इंडिया (साई) सेंटर, रांची के कैडेट्स फिर से अपने घरों में सिमट गये हैं. सेंटर से फिलहाल 72 कैडेट जुड़े हुए हैं. कोरोना के बढ़ते संक्रमण और दूसरी लहर के फैलते खतरों ने उनके सामने सवाल खड़े कर दिए हैं. पिछले साल 15 मार्च से बंद हुआ साई सेंटर अभी अप्रैल से खुलना था. पर सेंटर ने सुरक्षा के लिहाज से सभी कैडेट्स को घरों में ही रहने को कह दिया है. ऐसे में घर बैठे ही साई के कैडेट्स को आनलाईन पढाई और स्पोर्ट्स प्रैक्टिस करनी होगी.

क्या कहता है साई

साई, रांची के विनोद कुमार सिंह के अनुसार अप्रैल के पहले सप्ताह से सेंटर को खोलने की तैयारी थी. पर वर्तमान में फिर से शुरू हुए कोरोना संकट को देखते हुए खिलाड़ियों को यहां आने से परहेज करने को कहा गया है. पिछले साल की तरह इस बार भी कैडेट्स को आनलाईन मोड से ही खेल प्रैक्टिस और पढाई करायी जायेगी. आगे की स्थिति के अनुसार फैसला लिया जायेगा.

बायो बबल व्यवस्था कठिन

गौरतलब है कि देशभर के साई सेंटरों में स्पोर्ट्स एक्टिविटी जारी है. खेल मंत्रालय (केंद्र सरकार) के निर्देशानुसार सेंटरों पर बायो बबल व्यवस्था बनायी गयी है. इसके बावजूद भोपाल, चंडीगढ़ जैसे सेंटरों पर कुछ खिलाड़ियों, स्टाफ के संक्रमित होने की खबर सामने आ चुकी है जबकि वे बडे सेंटर हैं. रांची सेंटर कै अभी बायो बबल व्यवस्था के लायक तैयार करने में कई चुनौतियां हैं. ऐसे में सेंटर को बंद ही रखे जाने पर विचार हुआ है. ऊपर से राज्य सरकार ने भी पिछले दिनों राज्य के सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद रखने का आदेश जारी कर दिया है.

Advt

Related Articles

Back to top button