BiharLead News

बिहार के चर्चित सृजन घोटाले के 7 आरोपियों की जमानत याचिका कोर्ट ने की खारिज

Patna : बिहार के बहुचर्चित सृजन घोटाले के 7 अभियुक्तों की जमानत याचिका को खारिज कर दिया गया है. मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दायर की गई नियमित जमानत याचिका को पटना के विशेष पीएमएलए कोर्ट ने खारिज कर दिया.
इनमें दो अभियुक्तों को ईडी ने गिरफ्तार किया था, जबकि 5 आरोपी ईडी की तरफ से दर्ज मनी लॉन्ड्रिंग के केस में न्यायिक हिरासत में हैं.

इसे भी पढ़ें : प्रमोशन से जुड़े मामले में डीजीपी हुए कोर्ट में उपस्थित, अगली सुनवाई चार जुलाई को

इनकी जमानत याचिका खारिज हुई

Catalyst IAS
ram janam hospital

पीएमएलए के स्पेशल कोर्ट ने जिन अभियुक्तों की जमानत याचिका खारिज की है उसमें पीके घोष, विपिन कुमार, जयश्री ठाकुर, संत कुमार सिंह, अमरेन्द्र कुमार यादव, अरुण कुमार और देव शंकर मिश्रा शामिल हैं.
ईडी ने पीके घोष को अगस्त 2021 तथा विपीन कुमार को बीते साल ही सितम्बर में गिरफ्तार किया था. वहीं बाकी के पांच अभियुक्त फिलहाल ईडी के मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े केस में न्यायिक हिरासत में हैं.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

इसे भी पढ़ें : पूजा सिंघल की तबीयत बिगड़ी, ऊपर-नीचे हो रहा ब्लड प्रेसर, फिर पूछताछ शुरू

सीबीआई कर रही है जांच

मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में ईडी ने इनके खिलाफ पहले ही चार्जशीट दायर कर दिया है. जानकारी हो कि भागलपुर के चर्चित सृजन घोटाले की जांच सीबीआई कर रही है. बाद में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत ईडी ने भी घोटालेबाजों पर मामला दर्ज कर तहकीकात शुरू कर दी.
जांच के दौरान पाया गया कि अभियुक्तों ने सरकारी राशि की हेराफेरी कर बड़े पैमाने पर निजी संपत्ति अर्जित की. ईडी मामले में कई अभियुक्तों की संपत्ति भी जब्त कर चुकी है.

इसे भी पढ़ें : जमशेदपुर: तीन दिवसीय रवीन्द्र जयंती समारोह के अंतिम दिन महर्षि बाल्मिकी नाटक का मंचन

Related Articles

Back to top button