न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भ्रष्टाचार देश-दुनिया की आर्थिक स्थिति को प्रभावित कर रहा है : राजीव रंजन

24

Ranchi :  भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करना काफी जरूरी है. वर्तमान समय में सिस्टम के अंदर तक इसने पैर पसार लिया है, जिसे हटाना काफी जरूरी है. इसका असर देश-दुनिया की आर्थिक स्थिति में स्पष्ट रूप से देखा जा रहा है. उक्त बातें सीसीएल के विजिलेंस विभाग के मुख्य प्रबंधक राजीव रंजन सिंह ने कहीं. वह इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, रांची की ओर से आयोजित विजिलेंस अवेयरनेस कार्यक्रम के समापन के दौरान शनिवार को बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे. उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने के लिए सबसे जरूरी है कि युवा सामने आयें. विभिन्न क्षेत्रों में युवाओं को चाहिए कि अपनी भागीदारी बढ़ायें. बता दें कि आईआईएम की ओर से आयोजित विजिलेंस अवेयरनेस सप्ताह का थीम भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म कर नये भारत का निर्माण रखा गया था, जिसका समापन शनिवार को किया गया.

इसे भी पढ़ें- पूर्व जिला अभियंता सुनील कुमार की कंपनी हाई 10 राज्य में कर रही है 200 करोड़ का काम

बुद्धिजीवी वर्ग समझे जिम्मेदारी

राजीव रंजन ने कहा कि भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए किसी एक व्यक्ति या आंदोलन की जरूरत नहीं है, बल्कि यह हर व्यक्ति के अंदर की समझ है. इसके लिए जरूरी है कि हर वर्ग के बुद्धिजीवी अपने दायित्व को समझें. उन्हें चाहिए कि वे आगे आयें और लोगों को भ्रष्टाचार से देश को हेानेवाले नुकसान की जानकारी दें.

इसे भी पढ़ें- भ्रष्टाचार रोकने के लिए खुद में बदलाव लाने की जरूरत : पीके सिंह

हर क्षेत्र में व्याप्त है भ्रष्टाचार

एंटी करप्शन ब्यूरो की एसपी विजया लक्ष्मी ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि कुछ लोगों के स्वार्थ के कारण पूरे सिस्टम की बदनामी होती है. इससे अन्य लोग भी भ्रष्टाचार करने लगते हैं. ऐसे में कहा जा सकता है कि एक के कारण अन्य लोग भी भ्रष्टाचार में लिप्त होते हैं और हर क्षेत्र में भ्रष्टाचार ने पांव पसार रखा है.

इसे भी पढ़ें- आरयू कैंपस और प्रशासनिक भवन में नहीं बुझ सकती प्यास, नेचर कॉल आने पर हो जायेगी फजीहत

एकता और ईमानदारी जरूरी

आईआईएम के निदेशक डॉ शैलेंद्र सिंह ने कहा कि ऐसे मुद्दों पर लोगों को मिलकर काम करना चाहिए. हर व्यक्ति को ईमानदारी के साथ काम करने का संकल्प लेना चाहिए. वहीं, यदि लोगों में एकता होगी, तो भ्रष्टाचार को रोका जा सकता है. उन्होंने कहा कि किसी के साथ भी कमीशनखोरी समेत अन्य भ्रष्टाचार जैसे कार्य होते हैं, तो उन्हें एक साथ आवाज उठाना चाहिए. मौके पर शिक्षक और विद्यार्थी उपस्थित थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: