JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

रांची नगर निगम पर भारी निगम के ठेकेदार, अवैध तरीके से हो रही है वसूली

Ranchi: राजधानी में पार्किंग की जिम्मेवारी रांची नगर निगम ने ठेकेदारों को दे रखी है. इसके लिए रेट भी निर्धारित किया गया है. लेकिन ठेकेदार नियमों को ताक पर रख वसूली करने में लगे है. इतना ही नहीं 10 मिनट की फ्री पार्किंग की सुविधा भी लोगों को उपलब्ध नहीं कराई जा रही है. वहीं शहर में कई ऐसी जगहें है जहां पर निगम के नाम पर धड़ल्ले से वसूली की जा रही है. जिससे साफ है कि निगम के नाम पर ठेकेदार कैसे वसूली करने में जुटे है. इसके बावजूद नगर निगम के अधिकारियों को ये चीजें नजर नहीं आ रही है. इस मामले में जब नगर आयुक्त से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया. मेयर आशा लकड़ा ने मामले पर संज्ञान लेने की बात कही है.

जहां स्टैंड नहीं वहां भी वसूली

अरगोड़ा चौक पर नगर निगम की ओर से कोई आटो स्टैंड नहीं बनाया गया है. इसके बावजूद वहां से गुजरने वाले एक-एक आटो से 30 रुपये वसूली की जाती है. इसके लिए उन्हें बकायदा रसीद भी थमाई जाती है. जिसमें 23.60 लिखा होता है. लेकिन रसीद में न तो कोई नंबर है और न ही उस पर ठेकेदार का नाम. जिससे समझा जा सकता है कि कैसे निगम का नाम लेकर आटो वालों की आंखों में धूल झोंकने का काम किया जा रहा है.

न्यूक्लियस मॉल के सामने मनमाना चार्ज

नगर निगम की ओर से संचालित पार्किंग के लिए रेट निर्धारित है. जहां पर ग्रीन पार्किंग सिस्टम लागू है. इसके तहत पार्किंग के लिए 2 व्हीलर 5 रुपये प्रति तीन घंटे और कार के लिए 20 रुपये प्रति तीन घंटे की दर से रेट तय किए गए हैं. लेकिन न्यूक्लियस मॉल के पास निगम की पार्किंग में बाइक के लिए 10 रुपये वसूले जा रहे है. वहीं इसमें समय भी निर्धारित नहीं है. जबकि ठेकेदारों को निगम की ओर से स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि रसीद में पूरी जानकारी दे. साथ ही यह भी बोर्ड लगाए कि पहले 10 मिनट की पार्किंग फ्री है.

इसे भी पढ़ें: Ranchi: पंकज मिश्रा, प्रेम प्रकाश और बच्चू यादव की न्यायिक हिरासत की अवधि 14 दिसंबर तक बढ़ी

Related Articles

Back to top button