न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#CoronavirusOubreak: विभिन्न राज्यों में फंसे मजदूरों की मदद के लिए प्रभारी अधिकारी नियुक्त, हर शाम देंगे रिपोर्ट

985
  • मुख्य सचिव ने दिया निर्देश- सूचना भवन में बने कंट्रोल रूम में हर दिन सुबह 10 से 6 बजे तक रहेंगे प्रभारी अधिकारी
  • श्रम, नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का बने नोडल पदाधिकारी

Ranchi :  पूरे देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा के बाद झारखंड के कई मजदूर दूसरे राज्य में फंसे हुए हैं. इसकी सूचना विभिन्न माध्यमों से सरकार को मिल रही है.

इन मजदूरों को वहां किसी तरह की परेशानी नहीं हो, इसके लिए मुख्यमंत्री लगातार ट्विटर के माध्यम से उन राज्यों के मुख्यमंत्री से अपील कर रहे है कि उनके लिए सरकार उचित व्यवस्था करें.

वहीं राज्य में इस स्थिति से निपटने के लिए एक नियंत्रण कक्ष भी बनाया है. वहीं अब मुख्य सचिव ने सरकार ने केंद्रीय नियंत्रण कक्ष के संसाधनों का प्रयोग करते हुए विभिन्न राज्यों में फंसे मजदूरों के लिए अलग-अलग प्रभारी अधिकारियों की नियुक्ति कर दी है.

वहीं श्रम, नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग के प्रधान सचिव राजीव अरूण एक्का को नोडल पदाधिकारी नियुक्त किया है. इस बाबत एक पत्र राज्य के सभी विभागों के प्रधान सचिव को जारी कर सूचना दी गयी है.

इसे भी पढ़ें : #Corona को रोकने के लिए देशव्यापी में लॉकडाउन पर्याप्त नहीं, कई बाधाएं : पूर्व RBI गवर्नर राजन

Whmart 3/3 – 2/4

नोडल पदाधिकारी को हर शाम सौंपेंगे रिपोर्ट

मुख्य सचिव के जारी पत्र में बताया गया है कि देशव्यापी लॉकडाउन को देखते हुए विभिन्न राज्यों में फंसे मजदूरों के खाने-पीने, रहने सहित अन्य समस्याओं के निपटारे का काम प्रभारी अधिकारी करेंगे.

ये सभी अधिकारी प्रत्येक दिन सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक सूचना भवन में बनाये गये कंट्रोल रूम से सूचना लेंगे कि उनके प्रभार के राज्यों में राज्य के कितने मजदूर किन स्थानों पर फंसे हैं.

उसके बाद संबंधित राज्यों के राज्य या जिला प्रशासन से संपर्क कर उन मजदूरों के लिए समक्ष आ रही समस्याओं के निदान का प्रयास प्रभारी अधिकारी करेंगे.

उसके बाद प्रत्येक दिन की पूरी रिपोर्ट बनाकर शाम 6 बजे तक नोडल पदाधिकारी (श्रम, नियोजन विभाग के सचिव को) यथोचित सलाह एवं रिपोर्ट सौंपेंगे.

इसे भी पढ़ें : लॉकडाउन में घर वापसी के लिए 400 किमी पैदल चलकर 15 लोग तीन दिनों में सुंदरगढ़ से सिमडेगा पहुंचे

विभिन्न राज्यों/केंद्र शासित राज्यों के प्रभारी 

  • महाराष्ट्र राज्य के अमरेंद्र प्रताप सिंह
  • केरल राज्य के लिए अबुबक्कर सिद्दकी
  • कर्नाटक, असम और गोवा के लिए अजय कुमार सिंह
  • गुजरात, अरूणाचल प्रदेश और त्रिपुरा के लिए के.के. सोन
  • उत्तरप्रदेश, सिक्किम और नागालैंड के लिए आराधना पटनायक
  • राजस्थान, मेघालय और दादर नगर एवं दमन दीव के लिए हिमानी पांडेय
  • दिल्ली के लिए विनय कुमार चौबे
  • पंजाब के लिए पूजा सिंघल
  • तेलंगाना के लिए राहुल शर्मा
  • तमिलनाडु और मध्यप्रदेश के लिए अविनाश कुमार
  • हरियाणा के लिए प्रशांत कुमार
  • पश्चिम बंगाल लद्दाख और आंध्र प्रदेश के लिए अमिताभ कौशल
  • चंडीगढ़, जम्मू-कश्मीर और बिहार के लिए प्रवीण कुमार टोप्पो
  • हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और ओडिशा के लिए राहुल पुरवार
  • मणिपुर, मिजोरम, पुडूचेरी, छतीसगढ और अंडमान निकोबार एंव लक्षदीप के लिए के रवि कुमार

स्वास्थ्य मंत्री ने राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम का किया निरीक्षण

गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए बने राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया. अधिकारियों के साथ बैठक कर आ रहे शिकायतों का फीडबैक लिया.

साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये. स्वास्थ्य मंत्री ने कंट्रोल रूम का निरीक्षण भी किया और कार्य प्रणाली की जानकारी ली.

इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि ज्यादातर कॉल मदद के लिए दूसरे राज्यों से आ रहे हैं, वर्तमान स्थिति में सरकार उन राज्यों के लोकल या बड़े अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित कर तत्काल भोजन और रहने का इंतजाम करवा रही है.

जिला स्तर पर कंट्रोल रूम को मजबूत करने की होगी कवायद

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि राज्य के प्रत्येक जिले में कोरोना का कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है. कंट्रोल रूम को अधिक अधिकार और सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी.  ताकि ज्यादा से ज्यादा समस्याओं का निष्पादन हो सके.

लोगों से संयम बरतने की अपील की

स्वास्थ्य मंत्री ने आम लोगों और राज्य के बाहर फंसे हुए लोगों से संयम रखने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि राज्य सरकार उनके सुरक्षित घर लौटने के लिए हर संभव प्रयास करेगी.

फिलहाल जो जहां हैं, वही रहे और थोड़ा संयम रखें. ये मुश्किल की घड़ी भले है लेकिन हम सब मिलकर इससे लड़ेंगे भी और जीतेंगे भी.

इसे भी पढ़ें : #CoronavirusLockdown: हजारीबाग के छह होटल आइसोलेशन सेंटर के रूप में होंगे तैयार

न्यूज विंग की अपील

देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like