Business

कोरोना का साइड इफेक्ट : एविएशन सेक्टर को 157 अरब अमेरीकी डॉलर से अधिक का नुकसान संभव

यूरोप और अमेरीका में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण टूर एंड ट्रैवल और एविएशन सेक्टर को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है

 NewDelhi : इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन  का अनुमान है कि कोरोना महामारी के कारण इस साल और अगले साल 157 अरब अमेरीकी डॉलर से ज्यादा का नुकसान होगा. जान लें कि  कोरोना महामारी के कारण सबसे ज्यादा नुकसान टूर एंड ट्रैवल और एविएशन सेक्टर को  झेलना पड़ा है. दुनियाभर की एविएशन इंडस्ट्री का भट्ठा बैठ गया है.

इसे भी पढ़ें : वाशिंगटन :  राष्ट्रपति जो बाइडेन एक्शन में, कैबिनेट के प्रमुख नाम तय किये,  ब्लिंकन विदेश मंत्री और एलेजांद्रो गृहमंत्री होंगे

नुकसान इस साल के अलावा अगले साल भी जारी रहेगा

कोरोना को लेकर विमानन कंपनियों के इंटरनेशनल संगठन द्वारा कहा गया है कि यह नुकसान इस साल के अलावा अगले साल भी जारी रहेगा बता दें कि यूरोप और अमेरीका में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण टूर एंड ट्रैवल और एविएशन सेक्टर को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें : अलर्ट जारी…आज शाम आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के तटीय क्षेत्रों से 110 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से टकरायेगा चक्रवाती तूफान निवार…

पूर्वानुमान  100 अरब डॉलर के नुकसान के अनुमान से अधिक है.

इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अनुसार यूरोप और अमरीका में कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी के साथ ही दुनिया भर की विमानन कंपनियों का वित्तीय परिदृश्य खराब हो रहा है.  विमानन कंपनियों के संगठन ने कहा कि उद्योग को महामारी के कारण इस साल और अगले साल 157 अरब अमेरीकी डॉलर से ज्यादा का नुकसान होगा. इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन का पूर्वानुमान उसके द्वारा जून में जताये गये 100 अरब डॉलर के नुकसान के अनुमान से अधिक है.

इसे भी पढ़ें :  कांग्रेस  के दिग्गज नेता अहमद पटेल नहीं रहे, पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया…

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: