न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खेल पर कोरोना का असर :  एक्लेसटोन ने कहा, 2020 की एफवन चैंपियनशिप रद्द होनी चाहिए

1,540

London :  एफवन के पूर्व प्रमुख बर्नी एक्लेस्टोन ने कहा है कि इस सत्र की फार्मूला वन चैंपियनशिप रद्द होनी चाहिए क्योंकि कोरोना वायरस संकट के कारण इस बार इसे वैध मानने के लिए पर्याप्त रेस होने की संभावना नहीं है.

कोविड-19 के कारण 2020 सत्र की पहली आठ रेस स्थगित या रद्द कर दी गयी है तथा इस महामारी का प्रकोप जारी रहने के कारण बाकी बची 14 रेस में से अधिकतर को लेकर आशंका बनी हुई है. चैंपियनशिप को वैध मानने के लिए कम से कम आठ रेस का पूरी होना अनिवार्य है और एफवन के पूर्व मुख्य कार्यकारी एक्लेस्टोन का मानना है कि यह संभव नहीं है.

उन्होंने बीबीसी रेडियो से कहा, ‘‘हमें इस साल चैंपियनशिप रोक देनी चाहिए और अगले साल इसे शुरू करना चाहिए क्योंकि मुझे नहीं लगता कि हम उतनी रेस पूरी कर पाएंगे जिससे कि चैंपियनशिप वैध मानी जा सके. ’’

इसे भी पढ़ेंः #Corona की चपेट में मैट्रिक-इंटर के 6.21 हजार बच्चों का रिजल्ट, रुका है मूल्यांकन कार्य

hotlips top

स्पिनर स्टीफन ओकीफी ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास लिया

इधर, आस्ट्रेलिया के पूर्व टेस्ट स्पिनर स्टीफन ओकीफी ने अगले घरेलू सत्र के लिए न्यू साउथ वेल्स की अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची से हटाये जाने के बाद प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास ले लिया.

इस 35 वर्षीय बायें हाथ के स्पिनर ने आस्ट्रेलिया की तरफ से नौ टेस्ट मैच खेले जिनमें उन्होंने 35 विकेट लिए थे. उन्होंने भारत के खिलाफ 2017 में पुणे में 12 विकेट चटकाये थे. ओकीफी ने पुष्टि की उन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट को अलविदा कह दिया है.

30 may to 1 june

इसे भी पढ़ेंः पलामू: दोहरी भूमिका में पुलिस, लॉकडाउन का अनुपालन कराने के साथ जरूरतमंदों को खिला रहे खाना

न्यू साउथ वेल्स ने पिछले सत्र में शैफील्ड शील्ड जीती थी जिसमें ओकीफी ने 22.25 की औसत से 16 विकेट लेकर अपना अच्छा योगदान दिया था. यह प्रतियोगिता में किसी भी स्पिनर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था. नाथन लियोन अब भी न्यू साउथ वेल्स का स्पिन में मुख्य विकल्प है लेकिन वह अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने के कारण अधिकतर उपलब्ध नहीं रहते.

ओकीफी ने कहा कि वह निराश हैं लेकिन न्यू साउथ वेल्स के फैसले को स्वीकार करते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘अपने देश की तरफ से खेलना और अपने प्रांत की कप्तानी करना मेरे लिए सम्मान की बात है लेकिन इससे भी अधिक गर्व इस पर है कि मैं कुछ बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ खेला. ’’

ओकीफी ने कहा, ‘‘ जब मैं क्रिकेट खेलते हुए अपने दिनों की याद करता हूं तो लगता है कि मुझे सबसे अधिक इसी की कमी खलेगी. ’’

इसे भी पढ़ेंः Interview :  लॉकडाउन में नकारात्मकता से बचें, रचनात्मकता को अपनाएं : मनोवैज्ञानिक डॉ. समीर पारिख

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like