Corona_UpdatesJharkhandLead NewsNationalNEWSTOP SLIDER

कोरोना का कहर फिर से, देशभर में मास्क अनिवार्य, कई राज्यों में भीड़ पर रोक

New Delhi : देश में कोरोना के नए वैरिएंट BF.7 और BA.5.1.7 ने फिर से चिंता बढ़ा दी है. एक बार फिर कोरोना का खतरा मंडराने लगा है. इसी को देखते हुए मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने अधिकारियों के साथ मीटिंग की. बैठक में नये वैरिएंट को देखते हुए एक बार फिर से देशभर में मास्क और COVID 19 प्रोटोकॉल को अनिवार्य किया गया है. इस बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिये गए कि नए वैरिएंट को जल्द पता लगाया जाए, साथ ही जीनोम सीक्वेंसिंग में तेजी लाई जाए. मिशन मोड पर लोगों को COVID-19 का एहतियाती खुराक दिये जाने का निर्देश दिया. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने कहा कि एक प्रभावी रणनीति तैयार करनी होगी. इसके साथ ही ये भी सुनिश्चित करना होगा कि बेहतर तरीके से क्रियान्वयन हो.

बता दें कि नये मामलों में आयी गिरावट के बाद देशभर में कोरोना पाबंदियों को खत्म कर दिया गया था, लेकिन नये वैरियंट को लेकर कई राज्य एडवाइजरी जारी कर रहे है. कोविड के बढ़ रहे मामलों की रोकथाम के लिए महाराष्ट्र और केरल ने एडवाइजरी भी जारी कर दी है. इन राज्यों ने लोगों को मास्क पहनने की सलाह दी है. वहीं, मुंबई में BMC ने भी एजवाइजरी जारी की है. इसमें कहा गया है कि त्योहारों के दौरान भीड़ जुटने और बड़े कार्यक्रमों की वजह से COVID-19 संक्रमण फैल सकता है. इसे लेकर किसी भी तरह की लापरवाही करना ठीक नहीं है.

कोरोना का यह नया वैरिएंट ओमिक्रॉन का सब-वैरिएंट है. इसका नाम BA.5.1.7 है और यह वायरस काफी तेजी से फैलता है. नए वैरिएंट के बाद हेल्थ एक्सपर्ट ने सावधानी बरतने की सलाह दी है क्योंकि चीन में कोविड -19 मामलों में आई तेजी का कारण कथित तौर पर BF.7 और BA.5.1.7 वैरिएंट ही बताया जा रहा है. ओमिक्रॉन के नए उप-वेरिएंट बीए.5.1.7 और बीएफ.7, अत्यधिक संक्रामक माने जाते हैं और अब ये दुनिया भर में फैल रहे हैं.

इसे भी पढ़ें:असम पुलिस ने त्रिपुरा बॉर्डर पर 3.30 करोड़ रुपये का गांजा किया बरामद

Related Articles

Back to top button