Main SliderNational

CoronaGoodNews: सितंबर में दिल्ली में रह जायेंगे सिर्फ एक हजार केस! कंटेनमेंट जोन भी घटा

NewDelhi :  दिल्ली में कोरोना ने विनाशकारी तस्वीर दिखायी थी. लेकिन अब इसका कहर धीरे-धीरे कम हो रहा है. दिल्ली में कोरोना अब कमजोर हो रहा है. हालांकि मरीज अभी भी मिल रहे हैं. लेकिन इस समय मिलने वाले परिणाम संतोष लायक हैं.

दिल्ली में जो आंकड़े कोरोना के इन दिनों मिल रहे हैं. वो लोगों की जागरूकता के भी परिणाम हैं. शनिवार को दिल्ली में सिर्फ 1198 केस ही आये और 1201 मरीज ठीक भी हुए. दिल्ली में अबतक कोरोना का रिकवरी रेट 90 फीसदी तक पहुंच गया है. इस समय दिल्ली में कोरोना के 10705 एक्टिव केस ही बचे हैं.

advt

इसे भी पढ़ें –CoronaUpdate: झारखंड में 2 और मरीजों ने तोड़ा दम, मरने वालों की संख्या हुई 118

दिल्ली में कंटेनमेंट जोन घटा

कोरोना के इस आंकड़े के हिसाब से ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि दिल्ली में सितंबर तक सिर्फ एक हजार एक्टिव केस ही बचेंगे. लेकिन इसके लिए लगों का अभी की तरह मास्क का इस्तेमाल  और सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखना जरूरी है. तभी कोरोना जल्दी से कमजोर हो जायेगा.

दिल्ली में कंटेनमेंट जोन भी अब पहले के मुकाबले घटकर 496 हो गये हैं. जबकि इससे पहले सोमवार को सील इलाकों की संख्या 715 थी. दिल्ली में पहले 28 दिन बाद कंटेनमेंट जोन को डीसील किया जाता था. लेकिन अब कोरोना का आखिरी केस आने के 14 दिन बाद ही डीसील किया जायेगा. अब यदि किसी गली में कोरोना केस आता है तो इलाके के बजाए सिर्फ उस गली को ही सील किया जायेगा. वहीं अब 496 कंटेनमेंट जोन में मात्र 106211 लोग  रह गये हैं. जबकि पहले ये संख्या 3.5 लाख थी.

R-VALUE 1 के नीचे आना अच्छे संकेत

जून के महीने में दिल्ली को जो तस्वीर थी. वो हह दिन डरा रही थी. कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही थी. लेकिन अब एक्टिव केस के मामले में दिल्ली देश में 12वें नंबर पर आ गयी है. जबकि इससे पहले दूसरे नंबर पर थी. लेकिन डेढ़ महीने में ही स्थिती काफी अलग हो गयी है. कोरोना केस तेजी से घटने लगे हैं.

दरअसल दिल्ली में अब कोरोना ट्रांसमिशन यानि कि R-VALUE रेट अब 1 के नीचे आ गयी है. जुलाई में रेट 0.66 थी. जिसका मतलब ये है कि कोरोना संक्रित 100 मरीजों के ग्रुप ने 66 लोगों में संक्रमण फैलाया. बता दें कि महामारी में R-VALUE का 1 के नीचे आना अच्छा संकेत है. लेकिन फिर भी जिस तरह से कोरोना के केस और नये लक्षण पाये जा रहे हैं वैसे में दिल्ली को सतर्क ही रहना चाहिए.

इसे भी पढ़ें – पूर्व मंत्री ने शेयर की फोटो, पीएम मोदी पर साधा निशाना, पीआईबी इंडिया ने ट्वीट कर कहा ये फर्जी तस्वीर है

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: