World

#CoronaVirus से चीन में 490 लोगों की मौत, आज तैयार होगा 1300 बेड वाला हॉस्पीटल

Beijing: चीन में घातक कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 490 हो गई और इसके 24,324 मामलों की पुष्टि हुई है. चीन राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि मंगलवार को इससे 65 लोगों की जान गई और ये सभी हुबेई प्रांत और उसकी राजधानी वुहान से थे.

Catalyst IAS
ram janam hospital

कोरोना वायरस जहां तेजी से फैल रहा है, वहीं इससे लड़ने के लिए चीन भी लगातार कोशिश कर रहा है. इसी कड़ी में बुधवार को 1300 बेड वाला एक हॉस्पीटल बनकर तैयार हो जायेगा, जिसे सेना के सैकड़ों चिकित्सा कर्मी चलाएंगे.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

इसे भी पढ़ेंः#TerrorFunding: आधुनिक पावर के एमडी महेश अग्रवाल की जमानत याचिका खारिज

इससे पहले चीन ने वायरस का प्रसार रोकने के प्रयासों के तहत सोमवार को 1000 बिस्तरों वाला एक अस्थायी अस्पताल वुहान में खोला. इस अस्पताल को रिकार्ड नौ दिन में तैयार कर लिया गया. वुहान में ही सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं .

3,887 नये मामलों की पुष्टि

आयोग ने बताया कि मंगलवार को 3,887 नए मामलों की भी पुष्टि हुई है. 431 मरीज गंभीर रूप से बीमार हैं. वहीं 262 को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.

आयोग ने बताया कि 3,219 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है और 23,260 लोगों के वायरस से संक्रमित होने की आशंका है.

उसने बताया कि कुल 892 लोगों को अभी तक इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है.

मंगलवार तक हांगकांग में इसके 18 मामलों की पुष्टि हो चुकी थी और एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी.

कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है, लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं. इसके सामान्य प्रभावों के चलते सर्दी-जुकाम होता है. लेकिन ‘सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम’ (सार्स) ऐसा कोरोनावायरस है जिसके प्रकोप से 2002-03 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी.

इसे भी पढ़ेंःPM मोदी पर प्रियंका ने साधा निशाना, कहा- #Unemployment चरम पर है, यह संयोग या आपका प्रयोग?

कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए विश्व के पास मौका: WHO

इधर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मंगलवार को कहा कि घातक कोरोना वायरस पर अंकुश लगाने के लिए चीन द्वारा किए गए उपायों से यह बीमारी विदेशों में अधिक नहीं फैली और अब इसने उसके प्रसार को रोकने के लिए एक मौका उपलब्ध कराया है.

हालांकि, संरा स्वास्थ्य एजेंसी प्रमुख ने व्यापक एकजुटता की भी अपील की. उन्होंने कुछ धनी देशों पर वायरस के मामलों पर आंकड़े साझा करने में पीछे रहने का आरोप लगाया.

जिनेवा में डब्ल्यूएचओ की कार्यकारी बोर्ड की तकीनीकी ब्रीफिंग में टेडरोस ने कहा, ‘‘99 फीसदी मामले चीन में हैं, जबकि शेष विश्व में सिर्फ 176 मामले हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसका यह मतलब नहीं है कि स्थिति बदतर नहीं होगी. लेकिन निश्चित तौर पर हमारे पास एक मौका है. इस मौके को नहीं चूका जाए.’

इसे भी पढ़ेंः#ShaheenBaghFiring: कपिल के पिता ने दिल्ली पुलिस के दावे को किया खारिज, कहा- हम AAP के सदस्य नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button