World

कोरोना वायरस: दक्षिण कोरिया में मामले बढ़े, इटली और ईरान ने उठाये कठोर कदम

विज्ञापन

Kodogno / Shanghai: दक्षिण कोरिया में रविवार को कोरोना वायरस के मामले काफी बढ़ गये, जबकि इटली और ईरान ने इस महामारी के फैलने के डर से कठोर कदम उठाये हैं. इस संक्रामक बीमारी के फैलने पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने अफ्रीका की स्वास्थ्य प्रणाली को आगाह किया है, जो कोविड-19  से निपटने के लिहाज से तैयार नहीं है.

चीन के बाहर किसी देश में अगर कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले सामने आये हैं, तो वह दक्षिण कोरिया है. जहां संक्रमित लोगों की संख्या 556 तक पहुंच गयी है. रविवार को दो और लोगों की मौत के साथ देश में मृतकों की संख्या चार तक पहुंच गयी है. इससे एक दिन पहले दक्षिण कोरिया के प्रधानमंत्री चुंग स्ये-क्युन ने कहा कि करीब 5 करोड़ 10 लोगों की आबादी वाले देश के सामने गंभीर स्थिति खड़ी हो गयी है.

इसे भी पढ़ें –भारत दौरे से पहले ट्रंप का बाहुबली अवतार, कहा- वहां दोस्तों से मिलने के लिए उत्साहित

advt

चर्च के सैंकड़ों मेंबर भी हुए बीमार

देश के रोग नियंत्रण एवं बचाव केंद्र ने एक बयान में बताया कि संक्रमण के नये मामलों में कई लोग दाएगू शहर के शिंचेओंजी चर्च से जुड़े हैं. चर्च के सैकड़ों सदस्य अब इस संक्रमण की चपेट में आ गये हैं. शुरुआत 61 वर्षीय व्यक्ति के साथ हुई थी. जिसे 10 फरवरी को बुखार आया था, लेकिन संक्रमण का पता चलने से पहले वह चार बार चर्च की प्रार्थना में शामिल हुआ.

प्रधानमंत्री ने कोरिया वासियों से धार्मिक सेवाओं समेत बड़ी जनसभाओं में शामिल होने से बचने की अपील की है. वहीं, इटली में दो लोगों की मौत के बाद शनिवार को कई शहरों को कुछ हफ्तों तक के लिए पूरी तरह से बंद कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें – #Latehar: मनरेगा में गड़बड़ी के नये कीर्तिमान, बिना एमबी के कर ली गयी 13 लाख 56 की निकासी

इटली में कोरोना से एक की मौत

इटली यूरोप में पहला देश है, जहां शुक्रवार को कोरोना वायरस से उसके एक नागरिक की मौत का मामला सामने आया. इसके बाद करीब 12 शहरों में यात्रा पाबंदियां लगा दी गयीं. इन शहरों में इस संक्रामक बीमारी की चपेट में आने के मामले बढ़ते जा रहे हैं. लोम्बार्डी में छोटे से शहर कोडोग्नो के पास शनिवार को 77 वर्षीय एक महिला की मौत हो गयी. इससे एक दिन पहले वेनेतो में वायरस से 78 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गयी.

इटली के नागरिक सुरक्षा विभाग के प्रमुख एंजेलो बोरेली ने बताया कि कोरोना वायरस के पुष्ट मामलों की संख्या शनिवार तक बढ़कर 79 हो गयी. इनमें दो मृतक भी शामिल हैं.

चीन में घातक कोरोना वायरस से 97 और लोगों की मौत के बाद शनिवार को इससे मरने वालों की संख्या 2,442 हो गयी तथा इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के विशेषज्ञों ने इससे सबसे अधिक प्रभावित हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान का दौरा किया.

ईरान ने भी बंद किये स्कूल

ईरान ने भी रविवार से 14 प्रांतों में स्कूलों, विश्वविद्यालयों और सांस्कृतिक केंद्रों को बंद करने का आदेश दिया है. ईरान में कोरोना वायरस से पांच मौतें हो चुकी हैं, जो पूर्वी एशिया के बाहर इस वायरस से सबसे अधिक मौतें हैं. ईरान में बुधवार को कोरोना वायरस का मामला सामने आया और जल्द ही 28 मामलों की पुष्टि होने से हालात बिगड़ गये.

ईरान सरकार ने आगामी सप्ताह के अंत तक देशभर में सभी कला और सिनेमा कार्यक्रमों  को रद्द करने का भी आदेश दिया है.

वहीं मिस्र इकलौता अफ्रीकी देश है, जहां ‘कोविड-19’ के एक मामले की पुष्टि हुई है. डब्ल्यूएचओ ने आगाह किया है कि अफ्रीका महाद्वीप की स्वास्थ्य प्रणाली कोरोना वायरस से निपटने के लिए सक्षम नहीं है.

इसे भी पढ़ें – #Melania_Trump’s_School_Tour : स्वागत कार्यक्रम में केजरीवाल नहीं,  मनीष सिसोदिया के साथ शशि थरूर भी बरसे

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close