Lead NewsNationalNEWS

कोरोना टीकाकरण की शुरुआत 16 जनवरी, सभी तैयारियां मुकम्मल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को की है उच्च स्तरीय बैठक

New delhi : आखिरकार कोरोना टीकाकरण का इंतजार खत्म होने वाला है. 16 जनवरी से देशभर में टीकाकरण की शुरुआत होगी. सरकार ने इसकी औपचारिक घोषणा कर दी है. लोहड़ी, मकर संक्रांति, पोंगल, माघ, बिहु आदि पर्वों को ध्यान रखते हुए 16 जनवरी की तारीख तय की गई है. शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हुई उच्च स्तरीय बैठक में यह फैसला लिया गया.

 

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत पहले तीन करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा. पीएम मोदी इससे जुड़ा ट्वीट किया है. मालूम हो कि देश में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को दवा नियामक डीसीजीआइ ने मंजूरी दी है. केंद्र सरकार ने दोनों टीकों को भारत में सुरक्षा एवं प्रभाव के मामले में प्रभावी करार दिया है. टीकाकरण के लिए तमाम तैयारियों को मुकम्मल कर लेने का दावा किया गया है.

advt

 

समीक्षा बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मोदी को कोविन वैक्सीन डिलीवरी मैनेजमेंट सिस्टम के बारे में भी जानकारी दी गई. उन्हें बताया गया कि यह डिजिटल प्लेटफॉर्म है, जिसमें वैक्सीन के स्टॉक की रियल टाइम जानकारी, स्टोरेज के लिए तापमान से लेकर टीका लगवाने वालों तक की जानकारी मिलेगी. अब तक 79 लाख से ज्यादा लोग इस पर रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं।

 

बनायी गयी है व्यापक है रणनीति

स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि पूरी प्रक्रिया जन भागीदारी के सिद्धांत पर चलेगी। इसमें चुनाव कराने की बूथ रणनीति और यूनिवर्सल इम्युनाइजेशन प्रोग्राम (यूआइपी) के अनुभव का इस्तेमाल किया जाएगा।

 

सबसे पहले तीन करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगेगा। इसके बाद 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों और इससे कम उम्र के ऐसे लोग जिन्हें पहले से कोई बीमारी है, उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी। इस वर्ग में कुल 27 करोड़ लोगों को टीका लगाया जाना है। उम्र की पुष्टि के लिए लोकसभा और विधानसभा चुनावों की नवीनतम मतदाता सूची का प्रयोग किया जाएगा।

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: