Corona_UpdatesHEALTHLead NewsNational

Corona Update : ऑक्सीजन की कमी दूर करने को  विभिन्न राज्यों के अस्पतालों में बनेंगे 162 ऑक्सीजन प्लांट

केंद्र सरकार ने किया ऐलान, 33प्लांट पहले ही स्थापित हो चुके हैं

New Delhi :  देश में कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से फैल रहा है और अस्पतालों में संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. वहीं ऑक्सीजन की कमी को लेकर लगातार खबरें सामने आ रही हैं. इस बीच भारत सरकार ने रविवार को बताया है कि सभी राज्यों में सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं में 162 PSA (प्रेशर स्विंग एडसरप्शन) ऑक्सीजन प्लांट लगाने की स्वीकृत दी है. इससे 154.19 मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन क्षमता में वृद्धि होगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, ‘स्वीकृत किए गए 162 PSA प्लांटों में से 33 पहले ही स्थापित हो चुके हैं. इनमें 5 मध्य प्रदेश में, 4 हिमाचल प्रदेश में, चंडीगढ़, गुजरात और उत्तराखंड में तीन-तीन, बिहार, कर्नाटक और तेलंगाना में दो-दो, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, हरियाणा, केरल, महाराष्ट्र, पुदुचेरी, पंजाब और उत्तर प्रदेश में एक-एक स्थापित किए गए हैं.

advt

इसे भी पढ़ें :अरबपति उद्योगपति कुमारमंगलम बिड़ला ने खरीदी 9,00,00,000 रुपये की CAR , जानिये इसमें क्या है खास

पीएम ने की थी ऑक्सीजन उत्पादन बढ़ाने कीअपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को चिकित्सा ग्रेड की ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने की विस्तार से समीक्षा की थी. इसके बाद उन्होंने उत्पादन में तेजी लाने का अपील की थी. देश के कई हिस्सों में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है और इसके मद्देनजर ऑक्सीजन की मांग भी बढ़ रही है. गंभीर रूप से पीड़ित कोरोना मरीजों को सांस लेने में तकलीफ होती है और उन्हें ऑक्सीजन की सख्त जरूरत होती है.

इसे भी पढ़ें :कोरोना के गंभीर मरीजों के उपचार में इस्तेमाल होने वाली Remedisvir के दाम में भारी कटौती, जानिये नयी कीमतें

औद्योगिक सिलिंडर भी होंगे इस्तेमाल

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया था की पीएम मोदी ने देश में चिकित्सा ग्रेड की ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने की विस्तार से समीक्षा की थी. प्रधानमंत्री ने हर संयंत्र की क्षमता के अनुसार ऑक्सीजन उत्पादन बढ़ाने का सुझाव दिया. सिलिंडरों में ऑक्सीजन भरने वाले संयंत्रों को भी सभी सावधानियों का ध्यान रखते हुए चौबीसों घंटे काम करने की अनुमति दी गई. इतना ही नहीं, सरकार ने औद्योगिक इस्तेमाल में आने वाले सिलिंडरों के चिकित्सकीय ऑक्सीजन के लिए इस्तेमाल की अनुमति दी है.

इसे भी पढ़ें :27 से होने वाली जेईई मेन परीक्षा टली

डरानेवाले हैं देश में कोरोना के आंकड़े

देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना के 2,61,500 नए मामले सामने सामने आए हैं. इसी के साथ कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 1,47,88,109 पर पहुंच गए. भारत में इस समय उपचाराधीन मामले 18 लाख के पार हो गए हैं. वहीं, 1,501 और संक्रमितों की मौत होने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,77,150 पर पहुंच गई. संक्रमण के मामलों में लगातार 39वें दिन वृद्धि हुई है. देश में संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर गिरकर 86.62 प्रतिशत रह गई है. इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,28,09,643 हो गई है और मृत्यु दर गिरकर 1.20 प्रतिशत हो गई है.

इसे भी पढ़ें :jpsc : साढ़े पांच लाख उम्मीदवारों की जान जोखिम में डाल परीक्षा लेने पर जोर क्यों, जब देश भर में परीक्षाएं हो रहीं रद्द 

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: