न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Corona: घर से काम करेंगे शिक्षक, रसोइया को मिलता रहेगा मानदेय

916

Ranchi: कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग ने आवश्यक निर्देश जारी किये हैं. इस दिशा-निर्देश में कहा गया है कि सभी शिक्षक अपने घर से कार्य करेंगे.

स्कूलों में हुए एसए 2 परीक्षा का मूल्यांकन भी करेंगे साथ ही रिजल्ट भी तैयार करेंगे. इसके अतिरिक्त शिक्षक अपने मोबाइल पर इ-विद्यावाहिनी एप से अपना डाटा अपडेट करने का काम करेंगे.

इसे भी पढ़ें : #CoronaViruslockdown : देश भर में 433 संक्रमित, 37 नये मामले, भारत के अधिकतर हिस्सों में लॉकडाउन

परियोजना निदेशक देंगे निर्देश

घर से काम करने से संबंधित आवश्यक निर्देश आवश्कता पड़ने पर परियोजना निदेशक देंगे. अति विशेष स्थिति में  छात्र हित के लिए शिक्षकों को स्कूल बुलाया जा सकता है.

hotlips top

पत्र के रूप में जारी निर्देश में यह भी कहा गया है कि सभी स्कूलों को एमडीएम की राशि, अंडा-फल की राशि भी इस दौरान दी जायेगी. इसके अतिरिक्त लॉक डाउन रहने की स्थिति में भी रसोइया को मानदेय दिया जायेगा.

वहीं सभी पदाधिकारी व विभागीय कर्मी अपने मुख्यालय में बने रहेंगे. वे अपना आवास का पता, मोबाइल नंबर, ई-मेल, व्हाट्स एप डिटेल अपने ऑफिस हेड को उपलब्ध करायेंगे ताकि किसी भी समय बुलाया जा सके.

सभी निदेशालय व जिला कार्यालय प्रमुख रोस्टर के अनुसार एक व्यक्ति कार्यालय अवधि में रहेंगे जो विभिन्न पत्रों आदि को प्राप्त कर सके. और अपने अधिकारी को इसकी जानकारी दे सके. लॉक डाउन पीरियड में भी वेतन भुगतान आदि का काम करना है.

इसे भी पढ़ें : #Khunti: सीआरपीएफ की गोली के शिकार हुए रोशन होरो का 90 घंटे बाद अंतिम संस्कार, जुटे हजारों लोग

जरूरी हो तो कम समय के लिए खुलेगा ऑफिस

वेतन भुगतान से संबंधित कर्मी इस कार्य को करना सुनिश्चित करेंगे. पत्र प्राप्ति और वेतन से संबंधित कार्य अधिकारी अपने आवासीय कार्यालय से करेंगे. यदि ऐसा संभव नहीं हो पाये तो कम समय के लिए ऑफिस खोल कर काम करेंगे.

रोस्टर के अनुसार संबंधित कर्मियों को बुलाया जा सकता है. ऐसे कर्मियों को लाने ले जाने के लिए विभाग किराये का वाहन ले सकता है. यह विभाग की जिम्मेदारी होगी कि  वे संबंधित अधिकारी को कार्यस्थल पर लाना और वापस घर पहुंचाना सुनिश्चित करेंगे.

इसे भी पढ़ें : #LockdownNow: रांची से इटली गये विनय गुड़िया ने सुनायी आपबीती, दिखाया इटली का दर्दनाक दृश्य

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like