Corona_UpdatesLead NewsWorld

ब्रिटेन में कोरोना फिर उफान पर, वैक्सीन की दोनों डोज लेनेवाले हेल्थ मिनिस्टर पॉजिटिव

ब्रिटेन में सोमवार से खत्म होने जा रहे लॉकडाउन के नियम, संक्रमण तेजी से फैलने का खतरा

London :  ब्रिटेन में एक बार फिर से कोरोना महामारी का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है. इसकी चपेट में स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद भी आ गये हैं. साजिद ने शनिवार को बताया कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं और होम आइसोलेशन में हैं. उन्होंने कहा कि उन्हें बीमारी के हल्के लक्षण हैं.

बता दें कि साजिद जाविद कोरोना रोधी टीके की दोनों डोज लेने के बाद वायरस से संक्रमित हुए हैं. जाविद ने ट्वीट किया, ‘आज सुबह मैं कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया. मैं अपनी पीसीआर जांच के नतीजे का इंतजार कर रहा हूं, लेकिन सौभाग्य से मैंने टीका लगवा लिया था और लक्षण हल्के हैं.’

इसे भी पढ़ें :झारखंड रक्षा शक्ति यूनिवर्सिटी ने कोरोना से पैरेंट्स खो चुके स्टूडेंट्स की एक साल की फीस की माफ़

टीकाकरण कराने के लिए आगे आने की अपील

उन्होंने लिखा, ‘अगर आपने टीका नहीं लगवाया है तो कृपया टीकाकरण कराने के लिए आगे आएं.’ स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट में लिखा, ‘मैंने टीके की दोनों खुराक ले ली थीं और अब तक मेरे लक्षण बहुत ही हल्के हैं.’

advt

इसे भी पढ़ें :जानिए, किस बाइक से घूमता था कुख्यात नक्सली दिनेश गोप, मुठभेड़ स्थल से हुई बरामद

बोरिस जॉनसन को भी हुआ था कोरोना संक्रमण

वर्ष 2020 में महामारी की पहली लहर के दौरान ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आ गए थे. इस बीच, ब्रिटेन में कोरोना वायरस संक्रमण के 51 हजार 870 नए मामले सामने आए, जो 15 जनवरी के बाद सर्वाधिक आंकड़ा है. देश में महामारी से 49 और लोगों की मौत होने की खबर है.

बता दें कि ब्रिटेन में सोमवार से लॉकडाउन के नियम खत्म होने जा रहे हैं. कुछ विशेषज्ञों ने संक्रमण दर अधिक होने के कारण मास्क सहित कुछ कानूनी प्रतिबंध बनाए रखने का आह्वान किया है.

इसे भी पढ़ें :सरपंच पति का कॉलर पकड़ना पड़ा बहुत भारी, पांच लोगों ने मिलकर युवक के दोनों हाथ काटे

जनवरी के बाद पहली बार 51,870 नए मरीज मिले

अमेरिका के साथ ब्रिटेन में कोरोना महामारी एक बार फिर बेकाबू हो चली है. ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि बीते 24 घंटे में जनवरी के बाद पहली बार 51,870 नए मरीज मिले हैं. एक सप्ताह में संक्रमण दर में 45 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. इसी तरह मौतों के आंकड़े में भी दो तिहाई बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

इसे भी पढ़ें :Mumbai में भारी बारिश की वजह से भूस्खलन, मलबे में दबकर 25 की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

सॉलिसिटर जनरल ने दी चेतावनी

ब्रिटेन के सॉलिसिटर जनरल क्रिश विटी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि संक्रमण जितनी तेजी से फैल रहा उसे देखते हुए देश एक बार फिर से लॉकडाउन की स्थिति में जा सकता है. वहीं पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड (पीएचई) का दावा किया है कि पिछले सप्ताह 10,267 युवा पुरुषों में संक्रमण मिला जबकि इसके अनुपात में महिलाओं की संख्या कम थी.

किंग्स कॉलेज लंदन के वैज्ञानिकों का अनुमान है कि ब्रिटेन में कोरोना महामारी आने वाले समय में पूरी तरह बेकाबू हो सकती है. पिछले सप्ताह ही इसके संकेत मिलने लगे थे जब हर दिन 33,118 लोगों में वायरस की पुष्टि होने लगी थी.

इसे भी पढ़ें :किसानों के खाते में आने वाली है 9वीं किस्त, ऐसे चेक करें अपना नाम

युवाओं में पहली बार बड़े स्तर पर संक्रमण

ब्रिटेन में संक्रमण के बढ़ते मामले को देख पीएचई ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि महामारी की शुरुआत होने के बाद पहली बार युवाओं में बड़े स्तर पर संक्रमण के मामले मिल रहे हैं.

सबसे हैरानी की बात ये है कि इसमें वो लोग भी शामिल हैं जिन्हें टीके की दोनों या एक डोज लग चुकी है. ब्रिटेन के उत्तरपूर्व और यॉर्कशायर में संक्रमण की रफ्तार अधिक है और यहां डेल्टा वैरिएंट के मामले भी अधिक मिल रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :महंगाई के खिलाफ RJD का प्रदर्शन आज से, लालू ने बताया महंगाई कम करने का नुस्खा

टीका न लगवाने वाले हालात खराब करेंगे

ब्रिटेन के महामारी रोग विशेषज्ञ प्रो. टिम स्पेक्टर का कहना है कि डेल्टा वैरिएंट के साथ कोरोना महामारी आक्रामक हुई है. संक्रमण की दर बढ़ रही है लेकिन घटने की दर दूसरी लहर की तुलना में धीमी है. इससे ये तो स्पष्ट है कि आने वाले समय में अस्पतालों में भीड़ बढ़ने से बेड की किल्लत होगी, समय पर इलाज न मिलने से मौतों का ग्राफ बढ़ेगा. टीका न लगवाने वाले लोग हालात को और खराब करेंगे.

इसे भी पढ़ें :Sri Lanka दौराः पहला वनडे मुकाबला आज, जानें-भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन व रिकार्ड

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: