Corona_UpdatesJharkhandMain SliderRanchi

#Corona_Ranchi: कांटाटोली निवासी कोरोना पॉजिटिव है पेशे से पैथोलैब संचालक, बहुत सारे लोगों पर संक्रमण का खतरा

Ranchi: राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है. शनिवार को राज्य में कुल 8 नये मरीज मिले हैं जिनमें तीन पलामू जिले के हैं और पांच रांची के हैं.

रांची से मिले मरीजों में से एक नेताजी नगर कांटा टोली का पैथोलैब संचालक है. पैथोलैब संचालक पॉजिटिव मरीज की ट्रेवल हिस्ट्री है. वह पश्चिम बंगाल के झारग्राम से कुछ दिनों पहले लौटा था.

लौटने के बाद इसके मकान मालिक ने अपने घर में घुसने नहीं दिया जिसके बाद वह अपने पैथोलैब में ही रह रहा था.

advt

इसे भी पढ़ें : #Dhanbad: 3 लेयर मास्क का टेंडर लेकर खराब गुणवत्तावाला मास्क सप्लाई करने के मामले में HD इंटरप्राइजेज पर FIR

टिफिन सेंटर से खाना लेता था, दवा दुकान में भी जाता था

बताया जा रहा है कि वह एक टिफिन सर्विस के जरिए खाना भी मंगाता था. इसके अलावा वह पैथोलॉजिकल जांच भी कर रहा था. इसके साथ ही वह कोकर और कांटा टोली स्थित एक दवा दुकान के सीधे संपर्क में था.

adv

इसकी पूरी हिस्ट्री को देखा जाये तो इस मरीज से दर्जनों लोगों पर संक्रमण का खतरा है. दवा दुकान में कई लोग जाते हैं, वहीं टिफिन सर्विस वाले से कई छात्र और काम करने वाले युवा खाना लेते हैं. इन सब पर संक्रमण का खतरा है.

साथ ही वैसे लोग और परिवारों पर भी संक्रमण का खतरा है जिन्होंने मरीज से पैथोलॉजी संबंधी जांच करायी है.

इसे भी पढ़ें : अच्छी खबर : बोकारो के 4 मरीज ठीक होकर लौटे, जिला प्रशासन ने ताली बजा कर बढ़ाया हौसला

मेडिकल प्रोफेशन में होने के कारण कई लोगों से था संपर्क

कांटा टोली से मिला मरीज मेडिकल प्रोफेशन से जुड़ा हुआ था इसलिए उसका संपर्क कई लोगों से था. प्रतिदिन लोग पैथोलॉजिकल जांच और ड्रेसिंग के लिए भी इस से संपर्क में आ रहे थे.

बताया जा रहा है कि कांटा टोली के पास कल चैन छिनतई हुई थी. जिसमें बुजुर्ग महिला घायल हो गयी थी. उसी घायल महिला की ड्रेसिंग भी इस मरीज ने कल की थी. इससे बुजुर्ग महिला पर भी संक्रमण का खतरा है.

कांटा टोली नेताजी नगर को किया जा चुका है सील

पॉजिटिव मिलने के बाद कांटा टोली के नेताजी नगर रोड नंबर 4 को सील कर दिया गया है. जिला प्रशासन ने पूरे इलाके को सैनिटाइज भी किया है.

इससे पहले रांची के हिंदपीढ़ी और बेड़ो इलाके से भी मरीज मिले हैं. हिंदपीढ़ी पिछले 1 महीने से सील है. बता दें कि राज्य में अब कुल 67 मरीज हो चुके हैं जिसमें सबसे अधिक रांची के मरीज हैं.

इसे भी पढ़ें : #Lockdown : रांची के 21 और स्कूलों में पुस्तक विक्रेताओं को किताबें उपलब्ध कराने की सशर्त अनुमति मिली

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: