West Bengal

रानीगंज अंचल में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 23

विज्ञापन
Advertisement

Raniganj: बीते एक सप्ताह में रानीगंज में डेढ़ दर्जन कोरोना संक्रमित मरीज पाये गये थे, जिसे लेकर पुलिस प्रशासन काफी सकते में थी, वहीं रविवार को कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 23 हो गयी है.

शहर में इतनी तेजी से बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को देखते हुए आसनसोल नगर निगम एवं पुलिस प्रशासन द्वारा पूरे ऐहतिहात बरतते हुए सभी इलाकों में सैनिटाइजेशन भी करवाया गया.

जानकारी के मुताबिक आइ हॉस्पिटल के चिकित्सक में कोरोना संक्रमण के लक्षण पाये जाने के बाद उन्हें इलाज के लिए सनाका कोविड-19 अस्पताल भेजा गया. साथ ही साथ आइ हॉस्पिटल को 7 दिनों के लिए बंद करने का निर्णय लिया गया.

advt

इसके अलावा जितने भी लोग चिकित्सक के संपर्क में आए थे, उन सभी की जांच की जा रही है तथा उन लोगों को होम क्वारेंटाइन का निर्देश दिया गया है.

इसे भी पढ़ें – देखें वीडियो, गिरिडीह में मनरेगा योजना के भुगतान के लिए पंचायत सचिव ने मांगा 10% कमीशन

रेल शहर आद्रा में पाया गया कोरोना का मरीज

Purulia: रेल शहर आद्रा में पहली बार कोरोना पॉजिटिव मरीज पाये जाने से पूरे शहर में सनसनी फैल गयी. पुलिस तथा स्वास्थ्य विभाग सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रेल शहर आद्रा के पुराने बाजार के रहने वाले 55 वर्षीय एक व्यक्ति कोरोनावायरस से संक्रमित हुए हैं. जिला स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में रविवार देर शाम इस बात की पुष्टि की गयी.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह व्यक्ति रानीगंज के एक भी सरकारी कारखाने में कार्य करते थे जहां से पिछले 5 जुलाई को वह आद्रा लौटे थे. इसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ने से स्थानीय दो डॉक्टरों के पास इलाज के लिए ले जाया गया था. पर लगातार उनकी तबीयत बिगड़ते रहने से डॉक्टरों ने उन्हें कोविड-19 टेस्ट कराने का परामर्श दिया.

इसी के तहत 10 जुलाई को उन्होंने दुर्गापुर सनका अस्पताल में अपना कोविड-19 टेस्ट कराया. 12 जुलाई की स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार उन्हें कोरोनावायरस पॉजिटिव पाया गया.

खबर मिलते ही तुरंत स्थानीय आद्रा थाना के पुलिस मौके पर पहुंची. पुरानी बाजार को तुरंत सील कर दिया गया. सभी दुकानों को बंद करवा दिया गया तथा पूरे पुराने बाजार को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया.

रविवार रात ही स्वास्थ्य विभाग की टीम संक्रमित व्यक्ति के घर पहुंची जहां से उस संक्रमित व्यक्ति तथा उनकी 88 वर्ष की मां को स्वास्थ्य जांच के लिए पुरुलिया कोविड-19 अस्पताल ले जाया गया. वहां अब उनका इलाज चल रहा है.

सोमवार सुबह प्रशासन की ओर से पूरे इलाके को सैनिटाइज किया गया तथा आद्रा रेल स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्थानीय लोगों की थर्मल जांच आरंभ कर दी गयी. इस दिन दोपहर प्रखंड स्वास्थ्य विभाग का एक दल मौके पर पहुंचकर संक्रमित व्यक्ति के परिजनों तथा उनके संपर्क में आए लोगों का स्वैब टेस्ट भी किया.

अगले दो दिनों में इस स्वैब टेस्ट की रिपोर्ट आयेगी. फिलहाल पूरे इलाके को सील कर पुलिस पहरा बिठा दिया गया है. रेल शहर की इस घटना के बाद रेल बाजार के संक्रमित इलाके के आसपास के सभी दुकानों को भी बंद करवा दिया गया है.

प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार इस इलाके पर निगरानी कर रही है और जल्द ही रेंडम स्वैब टेस्ट भी इलाके में आरंभ होगी.

इसे भी पढ़ें – रिम्स डेंटल के 37 करोड़ घोटाले के जिनपर हैं आरोप, अब उन्हें ही मिल गयी जांच की जिम्मेवारी

advt
Advertisement

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: