BiharCorona_Updates

#Bihar में कोरोना का कहरः संक्रमितों की संख्या हुई 536, गया को रेड जोन में रखने पर नीतीश सरकार ने जताई आपत्ति

Patna: बिहार में कोरोना का कहर बरकरार है. पूर्णिया जिले में बुधवार को कोरोना संक्रमण का एक नया मामला सामने आने के साथ प्रदेश में कोविड-19 के मामले अब बढकर 536 हो गये. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बुधवार को बताया कि पूर्णिया जिले के जलालगढ निवासी 27 वर्षीय एक पुरुष में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है.

इसे भी पढ़ेंःरिम्स के आइसोलेशन वार्ड से हिंदपीढ़ी की कोरोना संदिग्ध महिला फरार, खोज में जुटा प्रशासन

32 जिलों में 536 कोरोना पॉजिटिव

बिहार के 38 जिलों में से 32 जिलों में कोविड-19 के संक्रमण के मामले अब तक सामने में आये हैं. बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले अब तक सबसे अधिक मुंगेर प्रभावित है.

536 मामलों में से मुंगेर में 102, बक्सर में 56, रोहतास में 52, पटना में 44, नालंदा में 36, सीवान में 32, कैमूर में 31, मधुबनी में 23, गोपालगंज एवं भोजपुर में 18-18, बेगूसराय एवं औरंगाबाद में 13-13, भागलपुर एवं पश्चिम चंपारण में 11-11, कटिहार में 10, पूर्वी चंपारण में 09, सारण में 08, गया एवं सीतामढी में छह-छह, दरभंगा एवं अरवल में पांच-पांच, लखीसराय, नवादा एवं जहानाबाद में चार-चार, बांका एवं वैशाली में तीन-तीन, मधेपुरा, अररिया एवं पूर्णिया में दो-दो तथा शेखपुरा, शिवहर एवं समस्तीपुर में एक-एक मामले प्रकाश में आए हैं .
इसे भी पढ़ेंःलॉकडाउन में बढ़ा साइबर ठगी का खतरा, बरतें सावधानी

गया जिले को रेड जोन में रखने पर आपत्ति

गौरतलब है कि भारत सरकार ने कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या के आधार पर देश के जिलों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटा है. इसी कड़ी में बिहार के गया जिले को रेड जोन में रखा गया है. जिसपर बिहार सरकार ने स्पष्टीकरण मांगा है. दरअसल गया जिले में कोरोना का एक ही केस है, ऐसे में उसे रेज जोन में रखे जाने पर सरकार को आपत्ति है.

वहीं बिहार के लिए राहत की खबर ये है कि संक्रमण के दोगुने होनी की रफ्तार यहां धीमी हुई है. पहले सात दिनों में केस डबल हो रहे थे, फिर चार दिनों और अब ये बढ़कर 9 दिन हो गये हैं.

बिहार में अब तक कोरोना वायरस के 30487 नमूनों की जांच की जा चुकी है और कोरोना संक्रमित 158 मरीज ठीक हुए हैं.

गौरतलब है कि 21 मार्च को मुंगेर जिला निवासी कोरोना वायरस संक्रमित एक मरीज एवं 17 अप्रैल को वैशाली जिला निवासी एक मरीज की पटना एम्स में तथा एक मई को पूर्वी चंपारण जिला निवासी एक मरीज एवं दो मई को सीतामढी जिला निवासी कोरोना वायरस संक्रमित एक मरीज की नालंदा मेडिकल कालेज अस्पताल में मौत हो गयी.

इसे भी पढ़ेंः#Lockdown_Effect: अप्रैल में सर्विस एक्टिविटी रिकॉर्ड निचले स्तर पर आयीं: पीएमआइ

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close