Sports

कोरोना इफेक्ट :  कानमेबोल ने फीफा से कोरोना वायरस कोष गठित करने को कहा

विज्ञापन

Asuncion  : दक्षिण अमेरिकी फुटबाल संघों (कोनमेबोल) के प्रमुख अलेजांद्रो डोमिनगेज ने फीफा अध्यक्ष जियानी इन्फेनटिनो से कोरोना वायरस महामारी के दौरान फुटबाल क्लबों की मदद के लिए वैश्विक कोष गठित करने के लिए कहा है.

इसे भी पढ़ेंः ब्रेकिंग: ओडिशा ने लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाया, ट्रेन और हवाई सेवा शुरू नहीं करने का अनुरोध, शैक्षणिक संस्थान 17 जून तक बंद

कोनमेबोल अध्यक्ष डोमिनगेज फीफा कार्यबल के साथ वीडियो कांन्फ्रेन्स चाहते हैं ताकि बिना किसी देरी के उपयुक्त समाधान निकाला जा सके. उन्होंने बयान में कहा कि जब विश्व भर में फुटबाल फिर से शुरू होगा तो वह सही समय पर उठाये गये इन कदमों पर निर्भर करेगा.

इस महाद्वीपीय संस्था ने पहले ही क्लबों के लिए 750 लाख डालर की व्यवस्था की है जिन्हें दक्षिण अमेरिकी क्लब प्रतियोगिताओं के निलंबन के कारण नुकसान उठाना पड़ रहा है.

विश्व फुटबाल की सर्वोच्च संस्था फीफा ने कोविड-19 महामारी के कारण पैदा हुए संकट से निबटने के लिए कार्यबल गठित किया है.

इसे भी पढ़ेंः विवाद :  ट्रम्प ने फंड देने से किया इनकार, WHO ने वायरस संकट को लेकर वैश्विक एकता की अपील की

 खिलाड़ियों, कोच के वेतन में दस प्रतिशत की कटौती

रीयाल मैड्रिड के खिलाड़ी और कोच कोरोना वायरस महामारी के कारण राजस्व को हुए नुकसान में मदद के लिए अपने वेतन में कम से कम दस प्रतिशत की कटौती करने पर सहमत हो गये हैं.

क्लब ने कहा कि यह फैसला उनकी फुटबाल और बास्केटबाल टीमों पर लागू होगा. क्लब के कुछ शीर्ष अधिकारी वेतन में कटौती पर सहमत हो गये हैं जो 20 प्रतिशत तक जा सकता है लेकिन यह बाकी सत्र की परिस्थितियों पर निर्भर करता है.

साथी स्पेनिश क्लब सेविला ने भी बुधवार को कहा कि महामारी के दौरान कार्य की लागत कम करने के लिए वह अपने खिलाड़ियों और अन्य कर्मचारियों को अवकाश पर रखेगा.

स्पेनिश लीग ने अनुमान लगाया है कि अगर महामारी के कारण प्रतियोगिताएं शुरू नहीं होती है तो क्लबों को संयुक्त रूप से एक अरब यूरो का नुकसान होगा.

इसे भी पढ़ेंः देश में बढ़ रहा #Corona का खतरा: महाराष्ट्र में 162 और गुजरात में 55 नये मामले

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close