Lead NewsRanchiSports

IPL शिडयूल को ले विवाद, कोई टीम घरेलू मैदान में नहीं खेलेगी, धौनी भी नहीं खेल पायेंगे चेन्नई में

इस बार लीग राउंड के मैच केवल चार ही जगहों पर खेले जाएंगे

Mumbai : बीसीसीआई (BCCI) ने रविवार को आईपीएल 2021 (IPL 2021) के शेड्यूल का ऐलान किया था. नौ अप्रैल से आईपीएल का 14वां सीजन शुरू होगा जिसका फाइनल मुकाबला 30 मई को खेला जाएगा. इस बार के आईपीएल शेड्यूल की खास बात यह है कि कोई भी टीम अपने घरेलू मैदान पर मुकाबला नहीं खेलेगी. कोरोना के कारण इस बार लीग राउंड के मैच सिर्फ चार ही जगह पर खेले जाएंगे.

लीग दौर में कुल 56 मैच होंगे. लीग दौर में हर टीम सिर्फ चार मैदानों पर ही अपने मैच खेलेगी. चेन्नई, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरू लीग चरण के 10-10 मैचों की मेजबानी करेंगे जबकि दिल्ली और अहमदाबाद 8-8 मैचों की मेजबानी करेंगे. इस बार सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad), राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals)और पंजाब किंग्स (Punjab Kings) के घरेलू मैदान पर कोई मैच नहीं खेला जाएगा. इन तीनों ही टीमों ने केवल छह स्टेडियम में पूरे टूर्नामेंट को खेलने के विचार पर विरोध दर्ज किया है.

इसे भी पढ़ें :उपेन्द्र कुशवाहा का ऐलान, 10 दिनों के अंदर रालोसपा का जदयू में हो जाएगा विलय

ram janam hospital
Catalyst IAS

कुछ टीमों को रास नहीं आया नया शेड्यूल

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

ऐसे में एक फ्रेंचाइजी के अधिकारी ने क्रिकबज से बात करते हुए कहा, ‘इस तरह का शेड्यूल बनाकर आप एमएस धौनी को उनके आखिरी आईपीएल में चेन्नई में खेलने से रोक रहे हैं. अगर दर्शक आने ही नहीं वाले तो चेन्नई को चेन्नई में और मुंबई इंडियंस को मुंबई में खेलने से रोकने के पीछे की वजय क्या है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘दिल्ली में पृथ्वी शॉ, अजिंक्य रहाणे और श्रेयस अय्यर जैसे खिलाड़ी हैं जो मुंबई की ओर से घरेलू क्रिकेट खेले हैं और इस टीम को पहले तीन मुकाबले वहीं खेले हैं.

उसी तरह पंजाब की टीम में केएल राहुल, मयंक अग्रवाल और कोच अनिल कुंबले तीनों ही बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम के हालात के बारे में जानते हैं जहां उन्हें शुरुआत के पांच मुकाबले खेलने हैं. ऐसे हालातों में बीसीसीआई के प्लान का कोई मतलब नहीं है.’

इसे भी पढ़ें :JHARKHAND BUDGET SESSION : विस्थापितों की समस्या के निदान के लिए सरकार जल्द लेगी बड़ा निर्णय: हेमंत सोरेन

बायो बबल को लेकर भी उठाए सवाल

टीमों ने बायो बबल को लेकर भी सवाल खड़े किए. उनका कहा था कि टीमों को चार शहरों के बीच यात्रा करनी होगी जिससे कोरोना का खतरा बना रहेगा. टीमों को एयरपोर्ट पर, होटेल पर और बसों में सफर करना होगा. तमाम सुरक्षा के बावजूद कोरोना का खतरा बना रहेगा.’ यह सवाल खासतौर पर मुंबई में होने वाले मुकाबलों के लिए है जहां फिलहाल कोरोना की दूसरी लहर का खतरा बना हुआ है. खतरे के बावजूद महाराष्ट्र सरकार ने मैचों के सफल आयोजन का आश्वासन दिया है. शुरुआत में आईपीएल को केवल पुणे और मुंबई में ही आयोजित करने पर विचार किया जा रहा था लेकिन बाद में यह प्लान ठंडे बस्ते में चला गया.

इसे भी पढ़ें :सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों को भेजा नोटिस, पूछा क्या 50 फीसदी से अधिक हो सकता है आरक्षण

Related Articles

Back to top button