न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बीसीसीएल में कोयले की लगातार चोरी से घट रहा है राष्ट्रीय खपत में योगदान!

90

Dhanbad: पहली खबर है कि हार्ड कोक भट्ठों के मार्फत चोरी के कोयले को गलत कागजात बनाकर खुले बाजार में बेचा जाता है. पुलिस की कार्रवाइयों से यह बात सिद्ध होती है. दूसरी खबर है कि बीसीसीएल से कोयले की बड़े पैमाने पर चोरी हो रही है. राजपुरा स्थित डेको आऊटसोर्सिंग पैच से कोयले की दिनदहाड़े चोरी हो रही थी. इसी दौरान ओबी गिर जाने से कई लोग दब मरे. पुलिस-प्रशासन ने घटनास्थल से तीन लाशें निकालकर अपने कर्तव्य की इतिश्री कर ली. बीसीसीएल ने भी इस चोरी को हल्के ढंग से लिया. इस मामले के बाद जोरापोखर पुलिस ने बुधवार को स्टील ग्रेड कोयला लदे तीन ट्रकों को जब्त किया. ट्रकों को फर्जी कागजात के माध्यम से बंगाल भेजा जा रहा था. चोरी के कोयले को बलियापुर स्थित एक हार्ड कोक भट्ठे के मार्फत बंगाल भेजा जा रहा था. इस नाजायज कारोबार को संचालित करने में झरिया के मास्टरमाइंड प्रवीण शर्मा और आर शर्मा का नाम सामने आया है. कोयले के कागजात के लिए 30 से 40 हजार रुपये लिए जाते थे.

इसे भी पढ़ें – पत्रकारों की पिटाईः हेलमेट पहन कर पत्रकार पहुंचे थाना, प्रशासन के खिलाफ एफआइआर के लिए दिया आवेदन

आपणो घर प्रोजेक्‍ट का कोयला चोरी से कनेक्शन

250 करोड़ के निवेश से धनबाद के सरायढेला में बन रहे 18 मंजिला आपणो घर प्रोजेक्ट में कोयला चोरी का पैसा लगाया गया. आयकर के संयुक्त निदेशक प्रणव कुमार सोले के नेतृत्व में बीते साल 100 आयकर अधिकारियों की टीम ने छापामारी की. यहां मिले कागजात के आधार पर कुछ हार्डकोक भट्ठों पर भी छापामारी की गयी. कागजातों से पता चला कि चोरी के कोयले की तस्करी से प्राप्त कालाधन रियल एस्टेट कारोबार आपणो घर में खपाया गया. नाजायज कारोबार के किंग पिन के रूप में झरिया के रोहित शर्मा की पहचान की गयी. बता दें कि आपणो घर प्रोजेक्ट से जुड़े जयप्रकाश देवरालिया संघ से जुड़े रहे हैं. दूसरी तरफ कुछ दिनों पहले टुंडी के नक्सल प्रभावित इलाके में कई टन चोरी का कोयला मिलने पर पुलिस ने हार्ड कोक भट्ठा संचालक संघ से जुड़े केदारनाथ मित्तल आदि के खिलाफ शिकायत दर्ज की तो मामले को मैनेज करने की ऊच्चस्तरीय कोशिश की गयी. बता दें कि पुलिस की छापामारी में निरसा, गोविंदपुर, टुंडी, बलियापुर आदि हार्ड कोक भट्ठे में लगातार चोरी का कोयला मिलता रहा है. इस कारण हार्ड कोक भट्ठों को पुलिस लगातार सील करती रही है. जोरापोखर में पकड़े गये नये मामले से स्पष्ट है कि बीसीसीएल से कोयला चोरी लगातार जारी है.

इसे भी पढ़ें – सीबीआई विवाद : सीवीसी रिपोर्ट में आलोक वर्मा को क्लीन चिट नहीं, SC ने सेामवार तक वर्मा से जवाब मांगा

कोल स्टॉक में भारी हेरफेर

ब्लॉक टू में इसी साल सीबीआई और विजिलेंस ने स्टॉक का कई दिनों तक सर्वे कराया. इस दौरान स्टॉक में कोयले का चूरा डालकर रखा गया. ओबी का बड़ा बड़ा चट्टान मिला. इसके अलावा अन्य क्षेत्रों के स्टॉक में भी भारी हेराफेरी की शिकायत के बाद कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने एलबी सिंह से संबंधित देवप्रभा आऊटसोर्सिंग पैच का निरीक्षण किया. वहां ओबी का पहाड़ देखा और कोयले निकालने में अनियमितता पायी गयी. इस दौरान उनके साथ धनबाद के सांसद पशुपतिनाथ सिंह भी थे. गोयल ने अधिकारियों को सांसद के संपर्क में रहने का निर्देश दिया. इन सबके बाद पशुपतिनाथ का ताजा बयान गौर करने लायक है.

इसे भी पढ़ें – लोहरदगा: रांची में पत्रकारों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में कलम के सिपाहियों का प्रदर्शन

इस मैसेज को डीकोड करना होगा!

धनबाद के सांसद पशुपतिनाथ सिंह राजनीति के एक शातिर खिलाड़ी है. इस कारण कभी इनकी बात अप्रासंगिक लगती है. लगता है भटक गये, पर समझनेवाले समझ गये. ऐसा ही हुआ जब जिला प्रशासन की ओर से न्यू टाऊन हाल में आयोजित झारखंड स्थापना दिवस पर सांसद पशुपतिनाथ सिंह कोयले की बात करने लगे. उन्होंने कहा कि बीसीसीएल का घटता कोयला उत्पादन चिंता का विषय है. कोयला है तो धनबाद का अस्तित्व है. उन्होंने कहा कि कोयले की राष्ट्रीय खपत में बीसीसीएल का उत्पादन घट कर 6% पर पहुंच गयी है. वहीं दूसरी कंपनियों का योगदान बढ़ा है. मतलब? मामला गड़बड़ है? इधर, बीसीसीएल के प्रभारी सीएमडी गोपाल सिंह ने समीक्षा बैठक में कहा कि कोयला उत्पादन में आ रही गड़बड़ियों को दूर करें. कंपनी को 42 मिलियन टन उत्पादन और 44.5 मिलियन टन डिस्पैच करना है. कंपनी सितंबर तक मात्र 78 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त कर सकी थी. इस बीच गड़बड़ियों को सुधारने के लिए कंपनी में कई तबादले किये गये. हालांकि, कंपनी के प्रदर्शन में सुधार के लिए कोयला चोरी रोकना सबसे जरूरी है. जबकि, इसमें सत्तारूढ़ दल और उसके सहयोगी संगठन के लोगों की भूमिका बहुत बड़ी है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: